सुन लें BJP वाले मैं गीदड़ भभकियों से नहीं डरता, भूपेंद्र सिंह हुड्डा

0
445

Rohtak 06 September 2016: पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा सीबीआई के छापे के दो दिन बाद सोमवार को अपने आवास पर पहुंचे और सरकार पर आरोप लगाया कि राजनीतिक द्वेष के चलते कार्रवाई की जा रही है। उन्होंने कहा कि स्पष्ट है कि सरकार अपनी विफलता छिपाने के लिए सीबीआई का सहारा ले रही है।
पूर्व मुख्यमंत्री ने भाजपा सरकार के नेताओं के बयानों पर भी टिप्पणी की और कहा कि वे स्वतंत्रता सेनानी परिवार से हैं और इस तरह की गीदड़ भभकियों से डरने वाले नहीं हैं।  इस मौके कांग्रेस वर्करों ने हुड्डा से कहा कि वे हर घड़ी में उनके साथ हैं अगर सरकार ने जोर जबरदस्ती की तो वे चुप नहीं बैठेंगे, इस पर हुड्डा ने उन्हें समझाया कि कोई घबराने की बात नहीं है, मैंने कोई गलत काम नहीं किया है। सरकार जो चाहे वो जांच करा ले। मुझे किसी बात का डर नहीं है।
पत्रकारों से बातचीत में पूर्व सीएम ने कहा कि अगर सरकार ने मानेसर भूमि अधिग्रहण मामले की जांच करानी थी तो सीबीआई को पहले ही सौंप देनी चाहिए थी, जिसका मैं स्वयं स्वागत करता। सरकार ने इस मामले में पहले एफआईआर दर्ज की है और बाद में सीबीआई को केस सौंपा है, जिससे साफ है पूरी कार्रवाई राजनीतिक द्वेष के चलते की गई है।
हुड‍्डा ने कहा कि 9 घंटे रोहतक आवास व कैम्प कार्यालय व फार्म हाऊस पर जांच के दौरान सीबीआई को कुछ नहीं मिला है। सीबीआई उन्हें इस बारे में लिखित में देकर गई है कि फार्म हाऊस पर कुछ नहीं मिला। उन्होंने कहा कि अगर सरकार ने जांच करानी है तो जाट आरक्षण के दौरान हुई हिंसा व प्रदेश में पुलिस भर्ती प्रक्रिया की जांच हो, जिसमें 4 युवक मारे गए।

LEAVE A REPLY