कश्मीर मुद्दे पर चीन ने छोड़ा पाकिस्तान का साथ

New Delhi 23 September 2016: कश्‍मीर मामले को लेकर पाकिस्‍तान को चीन से मायूसी हाथ लगी है। चीन ने पाकिस्‍तान को झटका देते हुए कहा है कि दोनों देश भारत और पाकिस्‍तान बातचीत से कश्‍मीर मुद्दे को सुलझाएं।

चीन ने गुरुवार को पाकिस्तानी मीडिया की इन खबरों से दूरी बनाई जिनमें दावा किया गया था कि प्रधानमंत्री ली क्विंग ने पाक प्रधानमंत्री नवाज शरीफ से मुलाकात के दौरान कश्मीर मुद्दे पर पाकिस्तान को चीन की ओर से समर्थन जताया था। चीन के विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता लू कांग से जब इन खबरों के बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री ली क्विंग ने 21 सितंबर को न्यूयॉर्क में पाक प्रधानमंत्री नवाज शरीफ से मुलाकात की थी। उन्होंने द्विपक्षीय संबंधों पर और साथ ही समान हितों के अंतरराष्ट्रीय तथा क्षेत्रीय मुद्दों पर विचारों का आदान-प्रदान किया।

पाकिस्तानी मीडिया की खबरों के बारे में पूछे जाने पर लू ने कहा कि कश्मीर का मुद्दा इतिहास के समय से चला आ रहा है। इस पर हमारा रुख एक सा है। हम उम्मीद करते हैं कि संबंधित पक्ष वार्ता के माध्यम से शांतिपूर्ण समाधान पर पहुंचेंगे। पाकिस्तान के डॉन न्यूज ने खबर प्रकाशित की थी कि चीन, कश्मीर पर पाकिस्तान के रुख का समर्थन करता है और ली ने आश्वासन दिया है कि चीन कश्मीर पर पाकिस्तान के रुख का समर्थन करता रहेगा।

लू के बयान ऐसे समय में आये हैं जब कश्मीर में पाकिस्तान द्वारा तनाव बढ़ाने को लेकर यहां अशांति की भावना है। बीजिंग अपनी सबसे बड़ी विदेशी परियोजनाओं में से एक ‘सीपीईसी’ को लेकर जटिल परिस्थिति का सामना कर रहा है। भारत ने पीओके से गुजरने वाली परियोजना को लेकर बार बार विरोध दर्ज कराया है