अधूरी तैयारी के साथ बाजार में उतरी जियो, इसलिए हो रहे हैं काल ड्रॉप, एयरटेल

New Delhi 27 September 2016: देश की टेलीकॉम कंपनियों में जंग छिड़ गई है । भारती एयरटेल ने कहा है कि रिलायंस जियो को दो करोड़ से 2.5 करोड़ ग्राहकों के लिए पर्याप्त पॉइंट ऑफ इंटरकनेक्शन (पीओआई) दे दिए गए हैं और कंपनी अभी तक अपनी पूरी क्षमता नहीं दिखा पाई है, क्योंकि वह अभी इसके लिए तैयार नहीं है ।

कंपनी ने जियो को 26 सितंबर को लिखे एक लेटर में कहा, “पीओआई की बढ़त को लेकर 13 सितंबर को हुई हमारी बैठक के बाद हमने इंटरकनेक्टेड लिंक के ट्रैफिक आंकड़ों का अध्ययन किया, साथ ही आपकी अनुमानित क्षमता का भी अध्ययन किया. हमने आपको कुल 3,048 पीओआई मुहैया कराए, लेकिन उनमें से केवल 2,484 ही चल रहे हैं और इसका कारण जियो की तरफ से अपर्याप्त तैयारी टेस्टिंग प्रयास की कमी है.”

वहीं, जियो का कहना है कि दूसरे ऑपरेटर द्वारा मुहैया कराए गए पीओआई कम है ।

रिलायंस इंडस्ट्री ने 18 अगस्त को जारी एक बयान में कहा था, “कुल 12,500 पीओआई की जरूरत है. लेकिन तीनों कंपनियां मिलकर केवल 1,400 पीओआई ही दे रही हैं. इसका नतीजा है कि हमारे ग्राहकों का रोजना 12 करोड़ काल फेल हो रहे हैं, जब वे एयरटेल, वोडाफोन और आईडिया के नेटवर्क पर कॉल लगाते हैं ।

loading...

Leave a Reply

*