हरियाणा Govt ने चेक की फोटो कॉपी दिया असली चेक अभी तक नही, साक्षी के कोच बोले भीख नही मांग रहा हूँ

New Delhi 26 September 2016: हरियाणा सरकार अपनी फजीहत खुद करवाती है अभी हाल में पहलवान मौसम खत्री ने आरोप लगाया था कि गुड़गाव कुस्ती में जीते हुए एक करोड़ का इनाम उन्हें समय पर नहीं मिला था । अब भारत की महिला फ्रीस्टाइल कुश्ती टीम के कोच कुलदीप मलिक ने  भी कुछ ऐसा ही बोल रहे हैं ।  रियो ओलंपिक में साक्षी मलिक  की सफलता में अहम भूमिका अदा करने वाले मलिक को अभी तक कोई नकद पुरस्कार या सम्मान नहीं मिला है। साक्षी के रियो से  लौटने के बाद हरियाणा सरकार ने उन्हें बहादुरगढ़ में सम्मान समारोह में 10 लाख रुपये के चेक की एक फोटोकॉपी दी थी, लेकिन एक महीने बाद इस कोच को अभी तक असली चेक नहीं मिला है।

रेल मंत्री सुरेश प्रभु ने  29 अगस्त को जब साक्षी को खेल रत्न दिया था, तब उन्होंने भी कुलदीप को प्रमोशन का वादा किया था, लेकिन अभी तक वह अपना यह वादा पूरा नहीं कर पाए हैं। कुलदीप उत्तरी रेलवे में मुख्य टिकट इंस्पेक्टर हैं। उन्होंने पिछले एक महीने में हरियाणा सरकार और रेलवे खेल संवर्धन बोर्ड से संपर्क करने की कोशिश की लेकिन उनका किसी से कोई संपर्क नहीं हो पाया। साक्षी को 2011 से कोचिंग देने वाले कुलदीप ने कहा, ‘साक्षी के लिए भले ही बड़े नकद पुरस्कार हों और सुपर लग्जरी बीएमडब्ल्यू कार हो, लेकिन मुझे कुछ नहीं मिला। यहां तक कि वादे भी अभी पूरे नहीं हुए हैं।’ उन्होंने कहा, ‘मुझे एक भी पैसा नहीं मिला है। मैंने बार बार चेक के लिए पूछा है लेकिन अधिकारी इसे टालते रहे हैं।’

उन्होंने कहा, ‘साक्षी जब भी मिलती है बहुत सम्मान देती है। मैं पैसों की भीख नहीं मांग रहा लेकिन जो वादा किया गया है उसे निभाना ही चाहिए। सभी जानते हैं कि हमने क्या उपलब्धि हासिल की है और साक्षी का मेडल ही मेरा सबसे बड़ा इनाम रहेगा।’

loading...

Leave a Reply

*