रंग लाया वकील LN पाराशर का अभियान, हाईकोर्ट के जज नहीं बन पाए इंद्रजीत मेहता

0
335

फरीदाबाद: फरीदाबाद जिला बार एसोसिएशन के पूर्व प्रधान और कोर्ट के वरिष्ठ वकील LN पाराशर की भ्रष्टाचार के खिलाफ लड़ाई रंग लाई है. फरीदाबाद के पूर्व सेशन जज इंद्रजीत मेहता  जो हाईकोर्ट में न्यायाधीश बनने का सपना देख रहे थे, 31 अगस्त 2018 को ड्यूटी से रिटायर  हो गए और उनका न्यायाधीश बनने का सपना चूर चूर हो गया.

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि जिस समय इंद्रजीत मेहता फरीदाबाद कोर्ट में सेशन जज थे उसी समय वकील एल एन पाराशर ने उनके खिलाफ भ्रष्टाचार की शिकायत की थी, इसके अलावा उन्होंने जंतर मंतर पर धरना प्रदर्शन करके उनकी शिकायत राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री और सुप्रीम कोर्ट के प्रधान न्यायाधीश से भी की थी. उस समय सेशन जज इंद्रजीत का नाम पंजाब और हरियाणा हाईकोर्ट में न्यायाधीश के लिए प्रस्तावित किया गया  था लेकिन वकील पाराशर की शिकायत की वजह से वह न्यायाधीश नहीं बन सके.

इस मामले में 31 अगस्त 2018 को  पंजाब और हरियाणा हाईकोर्ट में सुनवाई थी, शिकायतकर्ता के  रूप में वकील एल एन पाराशर हाईकोर्ट गए थे. वहां पर जब वकील पाराशर को सेशन जज इंद्रजीत मेहता की रिटायरमेंट की जानकारी मिली तो उन्होंने अपनी दरखास्त पर कोई कार्यवाही ना करने का फैसला लिया क्योंकि वकील पाराशर चाहते हैं फरीदाबाद हरियाणा और देश में जितने भी भ्रष्ट जज हैं उनकी छुट्टी हो और उनकी जगह पर ईमानदार जजों की भर्ती हो.

वकील पाराशर ने फरीदाबाद, हरियाणा के अलावा देश की अन्य जिला अदालतों में काम करने वाले वकीलों से आग्रह किया है कि कंटेम्प्ट से ना डरें, कोर्ट में कहीं पर भी भ्रष्टाचार दिखाई दे तो उसके खिलाफ आवाज जरूर उठाएं, अगर खुद आवाज ना उठा सकें तो मुझे बताएं ताकि मैं अपनी संस्था न्यायिक सुधार संघर्ष समिति के जरिये भ्रष्टाचार के खिलाफ आवाज उठा सकूं।

LEAVE A REPLY