दे सलामी इस तिरंगे को जिस से तेरी शान हैं

khazani

Faridabad 14 August 2016: शहर में स्वतन्त्रता दिवस की सारी तैयारियां पूरी हो चुकी हैं । विभिन्न संस्थानों में आज भी स्वतन्त्रता दिवस समारोह बहुत धूम धाम से मनाया गया । तस्वीर में खाजानी पॉलीटेक्निक की छात्राएं स्वतन्त्रता दिवस समारोह मानते हुए

स्वतन्त्रता दिवस की कुछ कवितायें, शायरी

 

अपने वतन का हरदम सम्मान करता हूँ,
यहाँ की चांदनी मिट्टी का ही गुणगान करता हूँ,
मुझे चिंता नहीं है स्वर्ग जाकर मोक्ष पाने की,
तिरंगा हो कफ़न मेरा, बस यही अरमान रखता हूँ।
स्वतंत्रता दिवस की बधाई!

चड़ गये जो हँस कर सूली;
खाई जिन्होने सीने पर गोली;
हम उनको प्रणाम करते हैं!
जो मिट गये देश पर;
हम सब उनको सलाम करते हैं!
स्वतंत्रता दिवस की बधाई!

दे सलामी इस तिरंगे को
जिस से तेरी शान हैं,
सर हमेशा ऊँचा रखना इसका
जब तक दिल में जान हैं..!!

Chalo phir se aaj woh nazara yaad kar le,
Shahido ke dil me thi vo jwala yaad karle,
Jisme behkar azadi pahuchi thi kinare pe
Deshbhakto ke khoon ki vo dhara yad krle

Watan hamara aise na chhor paaye koi,
Rishta hamara aise na tod paaye koi,
Dil hamare ek hai ek hai hamari jaan,
Hindustan hamara hai hm hai iski shaan.

Related posts

loading...
Top