खट्टर ने कटवाई मोदी की नाक, मोदी के एक MP ने कटी नाक पर करवाई PM की जगहंसाई

0
472
Twice bitten, Haryana CM Manohar Lal Khattar is not third-time shy

नई दिल्ली/ चंडीगढ़/ लखनऊ: किसी के कारण किसी बेगुनाह की जान जाती है तो कारण वाले व्यक्ति को उसकी जिम्मेदारी लेनी चाहिए लेकिन हरियाणा में ऐसा नहीं हो रहा है। सांप के जाने के बाद सरकार और पुलिस लकीर को लाठियों से पीट रहे हैं। हरियाणा सरकार ने अभी अभी कई जिलों के प्रेस नोट भेजे हैं और हर प्रेस नोट में कहा गया है कि सुरक्षा चाक चौबंद है। अब तक 34 लोगों को बाबा के गुंडों ने मार डाला अगर सरकार सही होती तो इन बेगुनाहों की जान नहीं जाती। अब प्रेस नोट भेजने का कोई फायदा नहीं। सोशल मीडिया पर पीएम नरेंद्र मोदी की जमकर फजीहत हो रही है और प्रतिक्रियाओं को पढ़ ऐसा लग रहा है कि सच में खट्टर ने पीएम मोदी की नाक कटवा दी है, इस मामले पर वो बोलने लायक नहीं रह गए हैं शायद यही वजह है कि उन्होंने अब तक कोई बयान नहीं दिया है और न ही कोई ट्वीट किया है। विपक्ष का कहना है कि जो मोदी छोटी छोटी बातों पर ट्वीट करते हैं वो तीस से ज्यादा मौतों पर खामोश क्यू हैं? खट्टर ने तो मोदी की सिर्फ नाक ही कटवाई है, मोदी के एक सांसद ने तो कटी हुई मोदी की नाक का कबाब बना कर खा डाला और उस सांसद ने बलात्कारी बाबा का साथ दिया है। बीजेपी सांसद साक्षी महाराज ने गुरमीत का बचाव किया है। उन्नाव से सांसद साक्षी महाराज ने पूरे प्रकरण को भारतीय संस्कृति को बदनाम करने की साजिश बताया है। बीजेपी के राज्यसभा सांसद सुब्रमण्यन स्वामी ने भी इशारो-इशारों में राम रहीम का बचाव किया है। रेप के दोषी गुरमीत के बचाव में साक्षी ने कहा कि कोर्ट करोड़ों भक्तों की बात नहीं सुन रहा है, सिर्फ एक शिकायतकर्ता की बात सुन रहा है। बीजेपी सांसद ने सीधे-सीधे कोर्ट के फैसले पर सवाल उठाते हुए कहा कि एक शिकायतकर्ता सही है या करोड़ों भक्त। साक्षी महाराज ने यह भी कहा कि कोर्ट ने सीधे-सादे राम रहीम को बुला लिया, नुकसान के लिए कोर्ट भी जिम्मेदार है। मोदी के इस सांसद की भी सोशल मीडिया पर बहुत फजीहत हो रही है। मोदी की खामोशी का मतलब हरियाणा के सीएम भगाये जा सकते हैं। इन्तजार करें।

LEAVE A REPLY