सरकार के नए नियम से निजी अस्पताल के डाक्टर परेशान, 24 घंटे की हड़ताल

0
403

रोहतक से अनूप कुमार सैनी की रिपोर्ट: रोहतक क्लीनिकल एस्टेब्लिश्मेंट एक्ट के विरोध में रोहतक के सभी निजी अस्पताल व क्लीनिक IMAके अवाहन पर 24 घंटे की हड़ताल पर रहे और इस दोरान निजी क्लीनिक पूर्णत बंद रहे और निजी अस्पतालो में OPD और एमरजेंसी मरीजो को नही देखा गया निजी अस्पताल व निजी क्लीनिक के सभी डाक्टर IMA हाउस में इकटठे हुए और बैठक की वहा डाक्टरो ने क्लीनिकल एस्टेब्लिश्मेंट एक्ट के बारे में विचार विमर्श किया और इस क्लीनिकल एस्टेब्लिश्मेंट एक्ट को जन विरोधी व डाक्टर विरोधी करार दिया और मोजूद सभी 200 डाक्टरों को इस एक्ट के बारे में विस्तार से बताया और कहा की डाक्टरो पर पहले से बहुत से कानून लागु होते है और इस नये नियम के जारी होने के बाद छोटे व मध्यम दर्जे के सभी अस्पताल व क्लीनिक बंद हो जायगे और जनता पर इलाज का खर्च बहुत बढ़ जायगा और छोटे व मध्यम दर्जे के अस्पताल व क्लीनिक बंद होने के कारण मरीजो को छोटी छोटी बीमारियों के इलाज के लिए गुरुग्राम व दिल्ली ले जाना पड़ेगा।

डाक्टर SL वर्मा ने अपने सम्बोधन में कहा की यदि सरकार ने डाक्टरों की बाते और इस नये कानून को वापिस नही लिया तो हम इस सर्कार से लड़ाई जारी रखेगे और विधायको व मंत्रीयो के निवास का घेराव करेगे और अन्य ट्रेड़ उनिय्नो की भाती लड़ाई जारी रखे गे जरूरत पड़ने पर कोर्ट में भी लड़ाई लड़ेंगे।

LEAVE A REPLY