ड्यूटी पर शहीद हो गए सब इंस्पेक्टर नरेंद्र, अभी तक हत्यारे फरार

0
282

चंडीगढ़ : हरियाणा के रोहतक गोलीकांड के बाद वो पुलिसकर्मी सहमे हैं जो किसी मुजरिम को कोर्ट में पेश करने ले जाते हैं। सब इंस्पेक्टर नरेंद्र की कल कोर्ट से लौटते वक्त हत्या कर दी गई थी जो प्रेम विवाह करने वाली एक लड़की और उसकी सुरक्षा में तैनात थे। सब इंस्पेक्टर को रोहतक में लघु सचिवालय के मेन गेट के पास गोली मार दी गई थी । बताया जा रहा है कि लड़की ने अंतरजातीय विवाह किया था। लड़की नाबालिग थी, इसलिए उससे शादी रचाने वाले युवक को जेल जाना पड़ा, जबकि लड़की को करनाल स्थित नारी निकेतन भेज दिया गया।
बुधवार को लड़की इसी सिलसिले में गवाही देने आयी थी। कोर्ट में पेशी के बाद जब लड़की और सब इंस्पेक्टर (नरेंद्र) लौट रहे थे तो बाइक पर आये तीन युवकों ने उन पर ताबड़तोड़ गोलियां बरसा दीं। नरेंद्र को 3 और लड़की को 2 गोलियां लगीं। तभी वहां अफरातफरी मच गयी और हमलावर फरार हो गये। घायल लड़की और एसआई को पीजीआई के ट्रामा सेंटर ले जाया गया, जहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। शुरुआती जांच में पुलिस ने परिजनों पर शक जताया है। क्योंकि घरवालों की मर्जी के खिलाफ शादी की गयी थी। पुलिस ऑनर किलिंग एंगल से तफ्तीश कर रही है। रोहतक के व्यस्ततम इलाके में बुधवार को सरेआम हुई इस वारदात के बाद पुलिस प्रशासन में हड़कंप मच गया। पुलिस के आला अधिकारी तुरंत मौके पर पहुंचे। पुलिस के मुताबिक रोहतक के एक गांव की लड़की ने पिछले साल घर से भागकर दलित जाति के युवक सोमबीर से प्रेम विवाह किया था। लड़की के घरवालों ने युवक के खिलाफ केस दर्ज कराया था। इस बीच, इस जोड़े ने कोर्ट से सुरक्षा मांगी। जांच में लड़की नाबालिग निकली। इसके बाद युवक को सुनारियां जेल भेज दिया गया और लड़की को करनाल स्थित नारी निकेतन। बुधवार को लड़की को पेशी के लिए लाया गया था। इसी दौरान उन पर हमला बोल दिया गया। हत्या की इस वारदात के बाद पुलिस ने कई जगहों पर दबिश दी है। लड़की के परिजन अभी पुलिस को नहीं मिल पाये हैं।

LEAVE A REPLY