किसी भी हालत में फरीदाबाद में बर्दाश्त नहीं किये जाएंगे अवैध निर्माण व् अवैध अतिक्रमण: निगमायुक्त

0
118

फरीदाबाद, 11 फरवरी। माननीय पंजाब एवं हरियाणा हाई कोर्ट के आदेषों की पालना में फरीदाबाद नगर नगर निगम ने व्यापारियों और दुकानदारों के विरोध के बावजूद आज सोमवार को शहर के रिहायषी क्षेत्रों में चल रहे व्यवसायिक संस्थानों और अवैध कब्जों को हटाने की बड़ी कार्यवाही को अंजाम दिया।

पूर्व घोषित कार्यक्रम के अनुसार आज नगर निगम, जिला प्रषासन और पुलिस प्रषासन के वरिष्ठ अधिकारियों के नेतृत्व में एनफोर्समेन्ट विंग और पुलिस बल ने सेक्टर-9-10, 10-11 तथा 11-12 के डिवाइडिंग रोड पर अवैध रूप से चल रही व्यवसायिक गतिविधियों को बंद करने का अभियान चलाया। इससे पहले उच्च न्यायालय के आदेषों के बारे में संबंधित दुकानदारों और व्यापारियों को नोटिस देने के साथ-साथ मुनादी के माध्यम से सार्वजनिक रूप से भी अवगत करवा दिया गया था। इस अभियान के दौरान क्षेत्र को अवैध कब्जों से मुक्त करने का कार्य भी किया गया। आज प्रातः 9 बजे से लेकर देर सायं तक चले इस अभियान के तहत सेक्टर-9-10, 10-12 तथा 11-12 के डिवाइडिंग रोड पर रिहायषी मकानों में चल रही व्यवसासियक गतिविधियां की 103 यूनिटों को सील किया गया। इनमें दुकान, शोरूम, बैंक्विट हाल, सैलून, रेस्टारेंट, होटल, सर्विस स्टेषन,ढाबे, सेकंड हैंड कार शोरूम आदि शामिल थे।

निगमायुक्त अनीता यादव ने इस बात को दोहराया है कि निगम क्षेत्र में किसी भी प्रकार के अवैध निर्माण व अतिक्रमण को किसी भी हालात में बर्दाष्त नहीं किया जाएगा। अगर कोई भी व्यक्ति निगम क्षेत्र में अतिक्रमण, अवैध निर्माण करता हुआ पाया जाता है तो तुरन्त उसके विरूद्ध तुरन्त कार्यवाही अमल में लाई जाएगी। उन्होंने बताया कि व्यापक जनहित में शहर को अतिक्रमण मुक्त करने के लिए अतिक्रमण करने वालों व्यक्तियों व दुकानदारों के विरूद्ध हरियाणा नगर निगम अधिनियम, 1994 के प्रावधानों के तहत कड़ी कार्यवाही करने के निर्देष सभी संयुक्त आयुक्तों व एनफोर्समेन्ट विंग को दिए गए है।

LEAVE A REPLY