करोड़ों के घोटाले में फंसा रेयान इंटरनेशनल स्कूल का मालिक, बना रखी थी फर्जी कंपनी

Ryan International School Owners On Sebi Radar

नई दिल्ली: 25 अगस्त के पहले राम रहीम को देश के करोड़ों लोग अच्छा बाबा मानते थे लेकिन अब समय ये है कि उनके भक्त भी उनकी तस्वीरें नालियों में फेंकने लगे हैं। सजा मिलने के बाद बाबा के बारे में सैकड़ों बड़े खुलासे हो चुके हैं और अब भी हो रहे हैं। रेयान इंटरनेशनल स्कूल ग्रुप के ट्रस्टी ग्रेस और ऑगस्टिन पींटो के बारे में अब वैसे खुलासे होने लगे हैं जैसे राम रहीम के बारे में हो रहे हैं। एक बाबा था तो दूसरा गुरु है। ताजा जानकारी के मुताबिक़ रेयान इंटरनेशनल ग्रुप के ट्रस्टी ग्रेस और ऑगस्टिन पींटो सेबी के रडार पर आ गए हैं। इंडिया टुडे वेबसाइट के मुताबिक ग्रेस और ऑगस्टिन पिंटो ने मुंबई की एक फाइनेंस कंपनी कामालक्क्षी लिमिटेड में 50 लाख रुपये का निवेश किया था। इस 50 लाख के निवेश पर एक साल के भीतर 32 करोड़ रुपये से अधिक की लॉन्ड्रिंग की थी।

सेबी ने बाद में इस कंपनी को स्टॉक मार्केट में ट्रेडिंग करने से बैन कर दिया था। सेबी ने अपनी जांच में पाया कि कंपनी के शेयर की कीमत को जनवरी 2014 से लेकर के दिसंबर 2014 के बीच में आर्टिफिशियल तरीके से 4694 फीसदी तक बढ़ाया गया। एक साल में इस शेयर का प्राइस 10.20 से बढ़कर 489 रुपये हो गया। इस तरह पिंटो दंपत्ति ने एक साल में 32.20 करोड़ रुपये की अवैध तरीके से कमाई की थी। पिंटो ने जमकर टैक्स की चोरी की थी। स्कूल छात्र के हत्याकांड में जहां रेयान का मैनेजमेंट फंसता दिख रहा है वहीं अब पिंटो ये मामला के लिए नई मुसीबत लेकर आ सकता है।

loading...

Leave a Reply

*