फरीदाबाद पत्रकार मामले में कृष्णपाल गुर्जर और सीमा त्रिखा को फंसाने की रची जा रही थी साजिश

0
401

फरीदाबाद: फरीदाबाद में तीन पत्रकारों के खिलाफ दर्ज किए गए झूठे मुकदमे और उसके बाद पत्रकार उत्पीडऩ से गुस्साये सभी पत्रकारों ने एकजुट होकर बीके चौक पर धरना देकर राज्यपाल के नाम जिला उपायुक्त को ज्ञापन सोंपा। पत्रकारों ने धरना प्रदर्शन के दौरान झूठे मुकदमे दर्ज करवाने वाले नेताओं का बहिष्कार करने का एलान किया। और वहीं उन तीन पत्रकारों को भी पत्रकार समाज के सामने सही ठहराया। इस प्रदर्शन के दौरान हरियाणा पत्रकार संघ के अध्यक्ष केवी पंडित सहित अन्य जिलों के कई पत्रकार मौजूद रहे।
पिछले दिनों एक नेता और नेत्री के संबंधों की वायरल सूचना पर खबर लिखने को लेकर फरीदाबाद के तीन पत्रकारों पर राजनीति दबाब के चलते झूठा मुकदमा दर्ज करवाया गया था जिसके बाद उन्हें पुलिस रिमांड पर लेकर जेल भी भेज दिया गया था जिसपर उन्हें जमानत मिली,, यह सब तब हुआ जब खद सीएम खट्टर ने फरीदाबाद में रोड शो के दौरान पत्रकारों को आश्वासन दिया था कि किसी भी पत्रकार की गिरफ्तारी नहीं होगी। इस पूरे प्रकरण से गुस्साये पत्रकारों ने बीके चौक पर एकजुट होकर धरना प्रदर्शन किया और उसके बाद राज्यपाल के नाम जिलाउपायुक्त को ज्ञापन सोंपा। इस प्रदर्शन के दौरान फरीदाबाद के ही नहीं पलवल, गुरूग्राम सहित प्रदेश के तमाम जिलों पत्रकार मौजूद रहे।

हरियाणा पत्रकार संघ के अध्यक्ष केवी पंडित ने बताया कि पत्रकारों को गिरफ्तार करना और उनके साथ पेशेवर मुजरिम जैसा वर्ताव करना निंदनीय कार्य था जिसकी वह भत्र्सना करते हैं, इस पूरे मामले को लेकर एक बार वह सीएम से मुलाकात करेंगे।अगर सीएम ने पत्रकारों पर से मामला नहीं हटवाया तो पूरे हरियाणा में हरियाणा सरकार का बहिष्कार किया जायेगा। वहीं वरिष्ठ पत्रकारों की मानना है कि वह दशकों से पत्रकारिता कर रहे हैं इस दौरान मुकदमे तो कई दर्ज हुए मगर कभी गिरफ्तारी नहीं हुई ये पहला मामला है जिसमें गिरफ्तारी हुई है। सिटी प्रेस क्लब के प्रधान बिजेंद्र बंशल ने कहा कि शिकायतकर्ता यह मांग रखी की पत्रकारों से दो झूंठे नाम उगलवाए जाएँ जिनमे केंद्रीय राज्य मंत्री कृषणपाल गुर्जर और बड़खल की विधायिका सीमा त्रिखा का था और इन दोनों नेताओं को इस मामले में फंसाकर बदनाम करने की साजिश रची जा रही थी। पीड़ित पत्रकार शिकायतकर्ता के झांसे में नहीं आये और जेल जाना उचित समझा। बंशल ने कहा कि अब ऐसे लोगों को पत्रकार सबक सिखाएंगे और इनकी ख़बरों का बहिष्कार करेंगे। एक वीडियो देखें पूरी खबर जल्द

LEAVE A REPLY