आने वाले समय में जिले में शिक्षा का हब बनकर उभरेगा पृथला क्षेत्र: टेकचंद शर्मा

0
190

फरीदाबाद। पृथला विधानसभा क्षेत्र के विधायक पं. टेकचंद शर्मा ने कहा है कि प्रदेश के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर के आर्शीवाद से आने वाले समय में पृथला क्षेत्र जिले में शिक्षा का हब बनकर उभरेगा। क्षेत्र में बनने वाले कौशल विश्वविद्यालय व वाईएमसीए यूनिवर्सिटी जहां इस क्षेत्र के गौरव को बढ़ाएंगे वहीं भविष्य में ग्रामीण क्षेत्र के युवाओं को शहरों की तर्ज पर बेहतर और उच्च क्वालिटी की गुणवत्ता शिक्षा अपने क्षेत्र में ही उपलब्ध हो सकेंगी, जिससे उनका मनोबल बढ़ेगा। श्री शर्मा आज गांव अलावलपुर में 2.2 करोड़ की लागत से बनने वाली ललपुरा व बढ़राम वाली सड़कों की आधारशिला रखने के उपरांत उपस्थितजनों को संबोधित कर रहे थे। इसके उपरांत विधायक टेकचंद शर्मा ने गांव नरियाला में 3 चौपालों, गलियों व नालियों सहित करीब 48 लाख के विकास कार्याे का उद्घाटन किया।

इस दौरान गांवों की मौजिज सरदारी की ओर से विधायक टेकचंद शर्मा को सम्मान रुपी पगड़ी बांधी गई वहीं उनका फूल मालाओं से भी भव्य स्वागत किया गया। ग्रामीणों को संबोधित करते हुए विधायक टेकचंद शर्मा ने कहा कि मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर की कथनी और करनी में कोई अंतर नहीं है, उन्होंने क्षेत्र के लिए जो-जो घोषणाएं की, उन्हें अमलीजामा भी पहनाया और पूरे पृथला क्षेत्र में शिक्षा और स्वास्थ्य के मामले में युद्धस्तर पर कार्य चल रहे है। उन्होंने कहा कि इन सभी परियोजनाओं के पूर्ण होने के बाद पृथला क्षेत्र की तस्वीर पूरी तरह से बदल जाएगी। उन्होंने कहा कि क्षेत्र की जनता से चुनाव के दौरान विकास के जो वायदे उन्होंने किए थे, उन वायदों को चार वर्षाे के दौरान पूरा भी किया और हर गांव में समान विकास कराकर सर्व समाज को सम्मान देने का काम किया।

विधायक टेकचंद शर्मा ने कहा कि गांव अलावलपुर व नरियाला दोनों महाग्राम योजना में शामिल है अत: इन गांवों में सरकार बेहतर सुविधाएं उपलब्ध करवाने के लिए कृतसंकल्पित है और जल्द ही यहां करोड़ों के विकास कार्य करवाए जाएंगे। इसी दौरान विधायक श्री शर्मा ने गांव कटेसरा में कौशल केंद्र द्वारा कुशलता प्राप्त महिलाओं को प्रमाण पत्र भी वितरित किए। इस अवसर पर सतवीर सरपंच, सूरजभान नम्बरदार, अमरजीत मैम्बर, विधू सिंह, हरि सिंह, कल्याण सिंह, दीपचन्द, हरि सिंह, तुलसी, हरीचन्द, प्रकाश, प्रदीप शर्मा एसडीओ पंचायती राज, योगेन्द्र सरपंच, राजेश सरपंच, मनोज सरपंच, राजकुमार सरपंच, रमेश सरपंच, कुवरपाल सरपंच, अख्तर सरपंच, महेन्द्र सरपंच, सूरेश पूर्व सरपंच, पं. अनिल, पं. राजेन्द्र, कन्हैया नम्बरदार, ज्ञयासी, सूरजभान नम्बरदार, दुर्गेश भारद्वाज, राजकुमार पंच, जयप्रकाश पंच, राजू, अमरजीत मैम्बर, विधू सिंह, हरि सिंह, कल्याण सिंह, दीपचन्द, हरि सिंह, तुलसी, हरीचन्द, प्रकाश, प्रभू दयाल, रामचन्द सहित अनेकों गणमान्य लोग मौजूद थे।

LEAVE A REPLY