प्रद्युमन मर्डर, कंडक्टर को थर्ड डिग्री देकर जुर्म कबूल करवाने वाली पुलिस पर कार्यवाही की मांग

Press Conference By Kiran Chaudhary In Bhiwani

भिवानी: हरियाणा कांग्रेस विधायक दल की नेता किरण चौधरी ने पर्यावरण प्रदूषण पर चिंता जाहिर करते हुए हरियाणा प्रदेश में अरावली क्षेत्र के इको सिस्टम को बचाए रखने की मांग की है। उनका कहना है कि अरावली क्षेत्र में अवैध खनन हो रहा है तथा पेड़ काटे जा रहे हैं। इसके साथ ही खनन के दायरे को 500 मीटर की बजाए एक हजार मीटर कर दिया गया है। इस तरह के निर्णयों से अरावली जैसी अनेक पर्यावरणीय पॉकेट गड़बड़ा रही है तथा हमारा पर्यावरण प्रदूषित हो रहा है। यह बात उन्होंने आज भिवानी में एक पत्रकार वार्ता के दौरान कही।

पर्यावरण के मुद्दे पर किरण चौधरी ने कहा कि सरकार एक तरफ तो पराली को जलाए जाने पर जुर्माना लगा रही है। वही दूसरी तरफ किसानों की पराली के उचित प्रबंधन के लिए कोई कदम नहीं उठा रही। उन्होंने मांग की कि किसानों की पराली को जिला स्तर पर इकट्ठा करके गत्ता फैक्ट्री आदि विकल्पों में प्रयोग किए जाने का प्रबंधन किया जाना चाहिए, तभी पराली की समस्या हल हो पाएगी। अकेला पराली न जलाने का तुगलकी फरमान बगैर समाधान के निष्प्रभावी ही रहेगा।

प्रद्यूमन मामले में हरियाणा पुलिस द्वारा मामले को जबरदस्ती सुलझाने के दावे की पोल खुलने के प्रश्र पर कांग्रेस विधायक दल नेता किरण चौधरी ने कहा कि रेयान स्कूल के ड्राईवर को पुलिस ने प्रद्यूमन हत्याकांड में पकडक़र वाहवाही लूटनी चाही, जो सरकार की जल्दबाजी को दर्शाता है। ऐसे में मामले को गलत तरीके से सुलझाने वाले पुलिसकर्मियों पर कड़ी कार्रवाई होनी चाहिए, जिन्होंने कंडेक्टर थर्ड डिग्री लगाकर जबरदस्ती प्रद्यूमन की हत्या की बात कुबूलवाई। किरण चौधरी ने कहा कि जीएसटी के मुद्दे पर भाजपा को घेरते हुए कहा कि अब जनता की मांग पर दर्जनों वस्तुओं पर जीएसटी की दरें 28 से घटाकर 5 से 18 के बीच की गई है। जबकि पिछली कांग्रेस सरकार के दौरान इस प्रकार के प्रस्ताव पहले से ही लाए गए थे। परन्तु भाजपा ने देश को प्रयोगशाला बना रखा है, जिसके चलते अनेक महत्वपूर्ण गलत फैसलों पर भाजपा को रोल बैक करना पड़ा रहा है।

भाजपा सरकार के टेल तक पानी पहुंचाने के बयान पर किरण चौधरी ने चुटकी लेते हुए कहा कि वर्तमान सरकार पर नहरों में पानी लाने की बजाए नहरों को पाटने का काम कर रही है। कई  करोड़ की लागत  से बनी दादलपुर नलवी नहर को पाट दिया गया तथा एसवाईएल नहर को लेकर आए सुप्रीम कोर्ट के फैसले को एक साल पूरा होने के बाद भी प्रदेश को उसके हिस्से का पानी नहीं मिला है। छात्र संघ चुनाव को लेकर किरण चौधरी ने कहा कि छात्र संघ के चुनाव नेतृत्व को तैयार करने के उद्देश्य से किए जाने चाहिए, परन्तु कॉलेज स्तर पर दलगत राजनीति को लेकर छात्र संघ चुनाव करवाए जाने की मांग को वे व्यक्तिगत रूप से सही नहीं मानती। एचटेट की फीस बढ़ाए जाने के मुद्दे पर उन्होंने कहा कि गरीब, बेरोजगार, छात्रों से भारी फीस लेकर पहले तो उनके पेपर ले लिए जाते है, इस दौरान ये पेपर भी लीक हो जाते है। जिससे गरीब छात्रों को आर्थिक नुकसान सहना पड़ता है।

loading...

Leave a Reply

*