खट्टर ने हरियाणा में आधे किये बिजली के दाम तो विपक्ष हुआ परेशान

0
270

चंडीगढ़: हरियाणा सरकार ने कल प्रदेश में बिजली के दाम तकरीबन आधे कर दिए जिस फैसले से मुख्य विपक्षी पार्टी इनेलो खुश नहीं दिख रही है। इस मुद्दे पर इनेलो नेता अभय चौटाला ने सीएम को घेरते हुए कहा कि आज ही के दिन हरियाणा राज्य बिजली विनियामक आयोग में बिजली दामों को लेकर सुनवाई चल रही है। आयोग के फैसले के बिना सीएम कैसे रेट कम करने की घोषणा कर सकते हैं। इस पर सीएम ने कहा, मुख्यमंत्री क्या कर सकता है, मुझे अच्छे से पता है। हमने आज रेट तय कर दिए और हमें इसका अधिकार है। आयोग जो करेगा, सो करेगा, लेकिन हम गरीबों को सब्सिडी दे सकते हैं। इस पर अभय ने कहा, सुबह तो आपने सबसिडी शब्द का इस्तेमाल नहीं किया। अभय ने कहा, भाजपा सरकार बनने के लिए बिजली दरों को लेकर इनेलो सांसद व विधायक जब आपसे मिले थे तो आपने कहा था कि इसमें सरकार कुछ नहीं कर सकती। यह आयोग तय करेगा। उस समय क्यों नहीं सबसिडी दी गई। जवाब में सीएम ने कहा, नहीं घटाए उस समय, अब घटा दिए।
आपको बता दें कि हरियाणा में बिजली की दर करीब आधी कर दी गई है। राज्य में प्रति माह 200 यूनिट तक की बिजली की खपत पर प्र‍ति यूनिट अब सिर्फ 2.50 रुपये देना हाेगा। पहले यह दर 4.50 रुपये प्रति यूनिट थी। 50 यूनिट तक बिजली खपत करने वालाें के लिए यह दर दो रुपये प्रति यूनिट होगी। ये दरें 1 अक्‍टूबर से लागू होंगी। नए दराें से हरियाणा के 41 लाख बिजली उपभोक्‍ताओं का लाभ होगा। सरकार के इस फैसले का लाभ राज्य के उन बिजली उपभोक्ताओं को भी मिलेगा, जिनकी बिजली खपत 500 यूनिट तक है। मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने 2019 के चुनाव के पहले इस तरह से मास्टर स्ट्रोक लगाया है। विधानसभा के मॉनसून सत्र के अंतिम दिन सदन में मुख्‍यमंत्री मनोहलाल ने यह घोषणा की।

LEAVE A REPLY