छेड़छाड़ कांड से नाराज मोदी-शाह ने सुभाष बराला को दिल्ली बुलाया, छीन सकते हैं कुर्सी

0
344
PM Not Happy with Haryana Congress

चंडीगढ़ 7 अगस्त: हरियाणा भाजपा से आलाकमान सख्त नाराज है। ख़ास सूत्रों द्वारा जानकारी मिली है कि विकास बराला मामले में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और भाजपा अध्यक्ष अमित शाह इस मामले से काफी आहत हैं। शायद यही कारण है कि हरियाणा भाजपा अध्यक्ष सुभाष बराला को दिल्ली तलब किया गया है। उधर हरियाणा की आइएएस एसोसिएशन ने भी इस मामले में मोर्चा खोल लिया है और पीड़ित पक्ष के साथ खड़े होने की तैयारी में हैं। इस एसोसिएशन इस मुद्दे पर आज बैठक कर सकता है । 1986 के आइएएस अधिकारियों की एसोसिएशन ने इस पूरे मामले में संज्ञान लेते हुए प्रधानमंत्री मोदी को पत्र लिखने का फैसला लिया है। विपक्ष के हमले को देखकर नाराज मोदी और शाह बराला को पदमुक्त भी कर सकते हैं। ऐसे कयास लगाए जा रहे हैं लेकिन इस बाद के पुख्ता सबूत नहीं मिले हैं।

इस मुद्दे पर कांग्रेस भाजपा को किसी भी सूरत में बख्शने के लिए तैयार नहीं दिख रही। इसी मामले पर राहुल गांधी के ट्वीट ने हरियाणा कांग्रेस में और ऊर्जा भर गई है। कांग्रेस ने सोशल मीडिया के माध्यम से भाजपा से सवाल पूंछाहै  कि राबर्ट वाड्रा के लिए सोनिया गांधी, मनु शर्मा के लिए विनोद शर्मा, बेटे के लिए पी चिदंबरम और भांजे के कार्यों के लिए पवन बंसल जिम्मेदार हो सकते हैं, मगर विकास बराला के कारनामों के लिए सुभाष बराला जिम्मेदार नहीं हो सकते। यह दोहरी मानसिकता क्यों। शयद यही कारण है कि सुभाष बराला की कुर्सी पर ख़तरा मडराने लगा है।

LEAVE A REPLY