मैं नीच जाति का हूं लेकिन काम ऊंचे किये हैं: नरेंद्र मोदी

PM Narendra Modi in Surat #GujaratElection2017

नई दिल्ली: पहले ही अंदाजा लग गया था कि मणिशंकर अय्यर ने भाजपा को एक बड़ा मुद्दा दे दिया है और भाजपा इस मुद्दे को भुनाने में कोई कसर नहीं छोड़ेगी। अब पीएम मोदी ने इस मुद्दे को फ़टाफ़ट पकड़ लिया और सूरत की चुनावी रैली में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मणिशंकर अय्यर को जबाब देते हुए अय्यर के बयान को गुजरात का अपमान बताया. ऊंच-नीच देश के संस्कार नहीं हैं, मुगल संस्कार वालों को मेरे जैसे का अच्छा कपड़ा पहनना सहन नहीं होता। मैं भले नीच जाति का हूं लेकिन काम ऊंचे किये हैं।

पीएम ने कहा कि चुनाव में हार सामने देखकर कांग्रेस दिग्गजों का मानसिक संतुलन खराब हो गया है। मुझे भले ही कोई नीच कहे लेकिन मेरी अपील है कोई उनके खिलाफ मर्यादा का उल्लंघन ना करें. पीएम मोदी ने कहा कि देश के पीएम के लिए ऐसे शब्द…हमारा कोई भी कार्यकर्ता किसी भी फोरम पर इसका जवाब ना दे। गुजराती और बीजेपी के ऐसे संस्कार नहीं हैं. मणिशंकर के शब्द उन्हें मुबारक. 9 और 14 दिसंबर को कमल को वोट देकर नीच का जवाब दीजिए।

मालूम हो कि ‘चाय वाला प्रधानमनंत्री नहीं बन सकता’ कहकर राजनीतिक बवाल खड़ा करने वाले कांग्रेस के वरिष्ठ नेता मणिशंकर अय्यर ने आज एक बार फिर पीएम नरेंद्र मोदी के लिए आपत्तिजनक भाषा का इस्तेमाल किया था। पीएम मोदी के लिए ‘नीच’ जैसे शब्द का इस्तेमाल करते हुए मणिशंकर अय्यर ने कहा, ”मुझको लगता है कि ये आदमी बहुत नीच किस्म का है. इसमें कोई सभ्यता नहीं है। ऐसे मौके पर इस किस्म की गंदी राजनीति करने की क्या आवश्यकता है?’

loading...

Leave a Reply

*