बिजली चोरी से हुई रोहतक में मोदी की रैली, खट्टर से पूंछा गया सवाल

0
299

अनूप कुमार सैनी. रोहतक, 10 अक्टूबर। सांपला में 9 अक्टूबर को बिजली चोरी से हुई प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की रैली का मामला गर्माने लगा है। आरोप है कि रैली स्थल को बिजली ट्रांसफार्मर से डायरेक्ट बिजली से जोड़ा हुआ था।
इस मामले को लेकर आम आदमी पार्टी के प्रदेशाध्यक्ष नवीन जयहिन्द ने आरोप लगाया है कि सांपला में 9 अक्टूबर को हुई प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की रैली में जमकर बिजली चोरी की गई है। बिजली चोरी सिर्फ रैली वाले दिन ही नहीं हुई बल्कि पिछले 4 दिन से की जा रही थी। उन्होंने कहा कि आम आदमी अगर बिजली चोरी करता है तो उस पर एफआईआर दर्ज कराने के अलावा भारी जुर्माने के साथ-साथ जेल तक कर दी जाती है।


वे आज मेना रेस्टोरेंट में पत्रकारों से बात कर रहे थे। उन्होंने पत्रकारों को रैली स्थल पर बिजली ट्रांसफार्मर से डायरेक्ट बिजली लेते का वीडियो भी दिखाया।
नवीन जयहिन्द का कहना था कि प्रधानमंत्री की रैली में हुई बिजली चोरी के दोषी अधिकारियों के साथ-साथ सरकार में बैठे उन लोगों पर भी एफआईआर दर्ज कराने के अलावा अधिकारियों के खिलाफ अनुशासनात्मक कार्यवाही व उनसे भारी जुर्माना भी वसूला जाए क्योंकि अधिकारियों व सरकार में उच्च पदों पर बैठे नेताओं ने जान बूझकर रैली में बिजली चोरी की है। उन्होंने मुख्यमंत्री खट्टर से सवाल किया कि बिजली चोरी के संबंध में दोषियों से जुर्माना कब वसूला जाएगा और उनके खिलाफ कब कार्रवाई की जाएगी।

LEAVE A REPLY