मोदी सरकार मस्त, देश की जनता को लूट रहीं हैं तेल कम्पनिया, विपक्ष नींद में

0
605
Petrol Price Hike In india

नई दिल्ली: मोदी सरकार अगले लोकसभा चुनावों में 350 सीटों से ज्यादा सीट पर विजय पाना चाहती है लेकिन कामकाज पर नजर डालें तो काम ऐसा कर रही है कि 300 से कम सीटों पर सिमट सकती है। वर्तमान में मजबूत विपक्ष नहीं है वरना 250 का आंकड़ा पार करना भी मुश्किल हो जाता। कमजोर विपक्ष का मोदी सरकार जमकर फायदा उठा रही है और कुछ काम ऐसे कर रही है जिस कारण आम लोग ठगे जा रहे हैं। इसका एक उदाहरण तेल कंपनियों को लेकर है। सरकारी तेल कंपनियों ने पाई-दो पाई करके दो महीने में ही पेट्रोल के भाव 6 रुपए प्रति लीटर तक बढ़ा दिए हैं। कभी दो पैसे, कभी दस पैसे… भाव बढ़ाने की ये ‘हरकत’ 62 दिनों में 52 बार हुई। बदलाव की गति इतनी धीमी कर दी गई कि किसी को इसका अहसास तक नहीं हुआ कि जेब हल्की होती जा रही है। अगर यही रफ़्तार जारी रही तो दीवाली तक 6 रूपये प्रति लीटर दाम और बढ़ जायेंगे। कई राज्यों में बिजली के दाम भी बढ़ते जा रहे हैं। विपक्ष के युवराज इन मुद्दों पर ध्यान नहीं दे रहे हैं न ही उनकी पार्टी के अन्य नेता इन मुद्दों की तरफ ध्यान दे रहे हैं। कोई दलित वगैरा किसी घटना का शिकार होता तो टीम युवराज अपने छाती पीटती , बेचारी जनता लुट रही है, करोड़ों लोग लुट रहे हैं इनपर कोई फर्क नहीं पड़ रहा है। कल रसोई गैस के दाम भी बढ़ा दिए गए लेकिन इस मुद्दे पर भी विपक्षी खामोश हैं।

LEAVE A REPLY