हरियाणा में अब NHM घोटाला, चौटाला ने माँगा अनिल विज का स्तीफा

0
322

चंडीगढ़: इनेलो सांसद दुष्यंत चौटाला लगातार हरियाणा स्वास्थ्य विभाग में एक के बाद एक कई घोटालों को उजागर कर रहे हैं। दवा खरीद घोटाले के बाद अब उन्होंने नेशनल हैल्थ मिशन यानी NHM में बड़े घोटाले के आरोप लगाए । पूरे सबूतों के साथ उन्होने प्रैस कांफ्रेंस कर स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज को भी लपेटे में लिया। विज पर इनेलो सांसद दुष्यंत चौटाला ने आरोप लगाते हुए उनके इस्तीफे की मांग की है। चौटाला ने प्रेसवार्ता में विज पर आरोप लगाया कि उन्होंने ऐसे व्यक्ति की नियुक्ति पत्र पर हस्ताक्षर किया जो इस पद के लिए बिल्कुल भी योग्य नहीं था। चौटाला का कहना है कि यदि विज साहब इस तरह के लोगों को नियुक्त करते हैं तो उन्हें अपने पद से इस्तीफा दे देना चाहिए।

दरअसल अरुण पराशर को फार्मास्टिकल कमीशन का रजिस्ट्रार नियुक्त किया गया था। उनके नियुक्ति पत्र पर अनिल विज के हस्ताक्षर हैं। दुष्यंत चौटाला ने कहा कि पराशर ने 12वीं भी एेसे बोर्ड से की है जिनका उन्होंने आज तक नाम नहीं सुना है। पराशर की फार्मास्टिकल की डिग्री भी कोर्ट में सवालों के घेरे में हैं। इसके बाद भी उनकी कई बार नियुक्ति की जाती है। चौटाला ने कहा कि अरुण पराशर का आज कार्यकाल खत्म हो रहा है लेकिन सरकार 1 या 2 अप्रैल तक उनको फिर से नियुक्त कर सकती है।

चौटाला ने अनिल विज से पूछा है कि उन्होंने ऐसे व्यक्ति की नियुक्ति कैसे की है जो अपने पद से लिए योग्य भी नहीं था। सरकार को ऐसे लोगों को पद से हटाकर सीबीआई जांच करवानी चाहिए। उन्होंने कहा कि यदि विज साहब सरकार के कहने पर इस प्रकार की नियुकित करने के लिए बाध्य हैं तो उन्हें अपने पद से इस्तीफा दे देना चाहिए।

LEAVE A REPLY