अनशन पर बैठे पूर्व मंत्री पुत्र भड़के, कहा स्मार्ट सिटी की एक सड़क तक नहीं बनवा पा रहे हैं खट्टर के नेता

0
273

फरीदाबाद, 14 मार्च। शहर की प्रमुख सड़क हार्डवेयर चैक से प्याली चैक तक जर्जर और धूल फांक रही सड़क बनाने की मांग को लेकर आज पूर्व मंत्री शिव चरण लाल शर्मा के सुपुत्र मुनेश शर्मा शहर के समाजसेवियों के साथ अनशन पर बैठे हैं । मुनेश शर्मा ने कहा कि भाजपा राज और निगम अधिकारियों के अडियल रवैये के कारण हार्डवेयर चैक से प्याली चैक की सड़क दिन-प्रतिदिन धूल तो फांक रही हैं और इस पर लोगों का निकलना भी दूर्भर हो चुका है। स्मार्ट सिटी का ढिंढोरा पीटने वाले अधिकारी यहां आकर देखें तो पता चलेगा कि किस प्रकार से लोगों का आवागमन तो दूर्भर हो चुका है और साथ ही सड़कों पर भरे गंदे पानी ने भी विकराल रूप ले लिया है। उन्होंने कहा कि इस जर्जर सड़क पर पिछले चार महीने से नाले का पानी ओवरफलो होकर जमा हो रहा था जिससे यहां से आने-जाने वाले हजारों लोगों को परेषानियों का सामना करना पड़ रहा है और निगम अधिकारी कुंभकर्णी नींद सोये हुए है। उक्त सड़क के किनारे दो नाले है जिसमें एक नाला वैक्यूम ग्लास कंपनी के बराबर होते हुए सेक्टर-22 के नाले में गिरता है जबकि दूसरा नाला जाट धर्मषाला से लेकर हार्डवेयर चैक तक जाने वाले नाले से मिलता है। यदि इन दोनों नालों की सफाई करा दी जाए तो गंदे पानी का बहाव सड़कों पर से रूक जाएगा।

उन्होंने कहा कि भूपेन्द्र सिंह हुडडा के कार्यकाल में फरीदाबाद नंबर-1 पर था और आज यहीं फरीदाबाद सबसे पिछड़ कर रह गया है। हार्डवेयर चैक से प्याली चौक तक की सड़क पर कई बार पूर्व मुख्यमंत्री का आगमन हुआ और यह रोड एनआईटी विधानसभा क्षेत्र में सीएम हुडडा रोड के नाम से जानी जाने ली। उनके कार्यकाल में हार्डवेयर चैक से प्याली चैक तक की सड़क ही नहीं अपितु शहर की सभी सड़कें चमचमाती थी, सीवरेज व्यवस्था सुदृढ़ होने के साथ-साथ पार्कों के सौन्दर्यीकरण और साफ-सफाई भी अच्छी व्यवस्था थी परन्तु जिस फरीदाबाद को स्मार्ट सिटी का दर्जा दिया गया है आज उसकी हालत बद से बदतर हो चली है। शहर के प्रत्येक विधानसभा क्षेत्र में टूटी सड़कें, सीवरेज ओवरफ्लों, गंदगी के ढेर, पीने के पानी की समस्या, पार्कों की दुर्दषा इसका जीता जागता उदाहरण है। अगर निगम आयुक्त उक्त अधिकारियों पर कड़ा रूख अपनाए तो शहर में हो रहे विकास कार्यों को तेज गति तो मिलेगी ही साथ ही लोगों की समस्याओं का समाधान भी समय पर ही होगा।

इस मौके पर अनशन स्थल पर मौजूद समाजसेवी बाबा रामकेवल, पदमश्री ब्रम्ह दत्त, वरुण श्योकंद, अवतार सिंह, डाक्टर सौरभ शर्मा, सत्येंद्र राजपूत आदि ने कहा कि हमारी सरकार शहर को स्मार्ट सिटी बनाने का दावा करती है लेकिन एक छोटी सी सड़क भी नहीं बना पा रही है। समाजसेवियों ने कहा कि नगर निगम के अधिकारी को शहर को नरक बनाने पर तुले हैं और शहर की समस्याओं पर ध्यान नहीं दे रहे हैं। इन लोगों ने कहा कि निगम आयुक्त की जानकारी में भी प्रतिदिन हो रहे प्रदर्षन और धरने की जानकारी है। निगम द्वारा प्रत्येक वार्ड में लोगों की निगम क्षे़त्र से संबंधित समस्याओं जैसे सीवरेज, पानी, सड़कों, नाले-नालियां, गंदगी, स्ट्रीट लाईटों को दूर करने के लिए आॅनलाईन सहायता केन्द्र भी खोले गए है परन्तु इन समस्याओं का समाधान किसी भी वार्ड में नहीं हो रहा है। इन लोगों ने कहा कि लगता है फरीदाबाद के इस विभाग के अधिकारी फरीदाबाद को नरक बनाने की कसम खा चुके हैं।

LEAVE A REPLY