हरियाणा में हिमालय क्वीन एक्सप्रेस में सवार यात्रियों की निकली चीखे, एमरजेंसी ब्रेक लगने से कई घायल

0
346
More than 10 passengers of Himalayan Queen Express injured after driver of the train applied emergency brakes

नई दिल्ली: अम्बाला-दिल्ली रेलमार्ग पर रेलवे विभाग की बड़ी लापरवाही, ट्रेन चालक और स्टेशन मास्टर में नहीं हुआ सम्पर्क ,तेज रफ़्तार ट्रेन ने क्रास किया प्लेटफार्म,लगाने पड़े एमरजेंसी ब्रेक ,रेलवे की लापरवाही पर यात्रियों ने किया हंगामा ! स्टेशन मास्टर ने घटना के पीछे ट्रेन चालक को बताया जिम्मेवार ,पुरे मामले की शिकायत विभाग के उच्च अधिकारियो को दी !

बुधवार को रात करीब 8 बजाकर चालीस मिनट पर घरौंडा रेलवे स्टेशन के प्लेटफार्म नम्बर एक पर तेज रफ़्तार से पहुची हिमालय क्वीन एक्सप्रेस ट्रेन ने यात्रियों को दिल दहला दिए ,ट्रेन पर किसी तरह का नियंत्रण नहीं था जिसके चलते गाडी प्लेटफार्म क्रास कर गई और एमरजेंसी ब्रेक द्वारा ट्रेन को रोकना पड़ा।

दरअसल अम्बाला की और से तेज रफ़्तार आ रही हिमालय क्वीन को स्टेशन मास्टर ने डाऊन वन का सिग्नल दे दिया और वाकी टाकी के जरिये ट्रेन के चालक से सम्पर्क करने का प्रयास किया लेकिन ड्राइवर ने वोकी टाकी पर कोई जवाब नहीं दिया। ट्रेक बदलने के साथ ही फुल स्पीड पर चल रही ट्रेन हिचकोले खाने लगी। गाड़ी में सवार यात्रियों को अंदेशा हुआ कि ट्रेन पटरी से उतर चुकी है। ड्राइवर से सम्पर्क न होने के बाद स्टेशन मास्टर ने ट्रेन के गार्ड को एमरजेंसी ब्रेक लगाने के निर्देश दिए , ट्रेन के एमरजेंसी ब्रेक लगने गाड़ी में सवार में एक दर्जन से ज्यादा यात्री घायल हो गए ! ट्रेन के रुकने पर यात्रियों में भगदड़ मच गई , भड़के यात्रियों ने ट्रेन से उतर कर स्टेशन मास्टर कार्यालय में जमकर हंगामा किया ! यात्रियों ने आरोप लगाया की रेलवे विभाग के अधिकारी कर्मचारी नशे में थे जिस वजह से तालमेल बिगड़ा है ! हालांकि स्टेशन मास्टर ने पूरी घटना के पीछे ट्रेन चालक की लापरवाही को जिम्मेवार बताया है !

स्टेशन मास्टर कर्मबीर सिंह ने बताया कि स्टेशन पर पहुंचने से पहले ट्रेन चालक से वोकी टोकी पर सम्पर्क साधने की कोशिश की गई लेकिन चालक ने कोई जवाब नहीं दिया, चालक से सम्पर्क होते देख स्टेशन मास्टर ने ट्रेन के गार्ड को एमरजेंसी ब्रेक लगाने के निर्दश दिए। एमरजेंसी ब्रेक लगने से ट्रेन में सवार कुछ सवारियों को चोटें  भी आई। कर्मबीर सिंह ने कहा कि पुरे मामले की सुचना उच्च अधिकारियो को दे दी गई है ! करीब आधे घंटे तक ट्रेन घरौंडा स्टेशन पर रुकी रही ! इस दौरान स्टेशन पर कई बार एनाउसमेंट की गई, बाद में ट्रेन को पानीपत की और रवाना किया गया।

LEAVE A REPLY