मिशन 2019: ताबड़तोड़ 50 से ज्यादा रैलियों को सम्बोधित करेंगे PM मोदी

0
192
Any person buying jewellery above Rs 50,000 will not be required to submit PAN or Aadhar Card details

नई दिल्ली: मिशन 2019 के लिए सभी पार्टियों के नेता अब जमीन पर दिखेंगे। अब तक हवा में उड़ रहे तमाम पार्टियों के नेता अब जनता से हाँथ जोड़ते दिखेंगे और जनता के घर चाय पानी पीते दिखेंगे। कुछ गरीब बस्तियों में भोजन वगैरा करते दिखेंगे। केंद्र की सत्ताधारी भाजपा जिनके तमाम सांसदों की टिकट कट सकती है ऐसे सांसद भी जान जनसेवा करते दिखेंगे। सूत्रों की मानें तो पीएम अपने कुछ सांसदों के कामकाज से खुश नहीं हैं। ऐसे में वो खुद मैदान में कूदने वाले हैं और ताबड़तोड़ 50 से ज्यादा रैलियां करने वाले हैं। इन रैलियों के जरिये वह 100 से अधिक लोकसभा क्षेत्रों को कवर करेंगे।

सूत्रों ने बताया कि भाजपा अध्यक्ष अमित शाह और राजनाथ सिंह एवं नितिन गडकरी जैसे वरिष्‍ठ नेता भी 50-50 रैलियों को संबोधित करेंगे। सूत्रों ने बताया कि देश में पार्टी के अभियान के लिए आधार तैयार करने के लक्ष्य के साथ इन रैलियों की योजना बनायी गई। उन्होंने बताया कि हर रैली की रुपरेखा इस प्रकार तैयार की जा रही है कि उसका प्रभाव दो-तीन लोकसभा क्षेत्रों पर पड़े।

पार्टी के एक नेता ने बताया कि लोकसभा चुनाव के कार्यक्रम के ऐलान से पहले ही भाजपा 200 रैलियों के जरिये कम-से-कम 400 लोकसभा क्षेत्रों को कवर कर चुकी होगी। उन्होंने बताया कि इन 50 रैलियों के अलावा मोदी मध्य प्रदेश, राजस्थान और छत्तीसगढ़ में भी रैलियों को संबोधित करेंगे जहां इस साल के आखिर में चुनाव होना है।

पीएम मोदी ने इसकी शुरूआत राजस्थान में “लाभार्थी जन संवाद” से शुरूआत कर दी है। मोदी ने 11 जुलाई को पंजाब के मलोड में किसानों को संबोधित किया था। 14 और 15 जुलाई को प्रधानमंत्री मोदी उत्तर प्रदेश के आजमगढ़, मिर्जापुर और अपने संसदीय क्षेत्र वाराणसी में जनसभाओं को संबोधित करेंगे। इस दौरान वह सरकार द्वारा चार साल में किए गए कार्यों को जनता तक ले जाएंगे।

LEAVE A REPLY