साफट में शाल लिपटने के कारण मजदूर के शरीर के हुए दो टुकड़े

0
108

बाबैन, 13 जनवरी राकेश शर्मा: बाबैन के बरगट रोड पर मारकड़ा राईस मिल में सुबह करीब 10 बजे एक मजदूर की शाल सापट में लिपटने के कारण दर्दनाक मौत हो गई। कैलाश ठाकर नेपाल से मजदूरी करने के लिए बाबैन के मारकडा राईस में आया हुआ था। मौके पर उपस्थित मजदूरों का कहना था कि कैलाश ठाकर चावल की बोरी उठाकर चलती हुई साफट के उपर से गुजर रहा था तभी अचानक कैलाश ठाकर शाल साफट में लिपट गई जिसे साफट ने कैलाश ठाकर को जकड़ लिया और कैलाश ठाकर के शरीर के तीन हिस्से हो गया मजदूर के शरीर का उपर वाला हिस्सा अलग व कमर अलग व कैलाश ठाकर एक बाजू भी अलग हो गई। उसके बाद मौके पर मौजूद मजदूरों ने शोर मचाया की कैलाश ठाकर की मशीन की साफट में आ गया है जब तक मशीन को बंद किया तब तक कैलाश ठाकर शरीर के तीन ठुकडे हो चुके थे। जब मजूदरों ने कैलाश ठाकर के शव को देख तो पूरे शैलर में चीखों से गुज उठा। मौके पर मौजूद सभी मजूदरों ने कैलाश ठाकर के परिवार को आर्थिक सहायता देने की मांग की। तभी घटना का पता लगते ही शैलर मालिक अशोक कुमार न बाबैन थाना प्रभारी छोटूराम को सूचित किया और मौके पर पुलिस ने पहुंचकर घटना स्थल का मुआयना किया और कैलाश ठाकर के शव को कब्जे में लिया। थाना प्रभारी छोटूराम ने शव को पोस्टमार्टम के लिए कुरूक्षेत्र के एलएनजेपी हस्पताल में भेज दिया गया था।

क्या कहते है शैलर के ठेकेदार?
जब इस घटना के बारे में शैलर के ठेकेदार सीताराम से बात की गई तो उनका कहना था सभी मजूदर कैलाश ठाकर के परिवार को आर्थिक सहायता की मांग करते हुए कहा कि शैलर मालिक व सरकार के द्वारा कैलाश ठाकर के परिवार को मुआवजा मिलना चाहिए। ताकि उसके परिवार को लालन पालन हो सके। सीताराम ने बताया कि कैलाश ठाकर के परिवार में उनके दो बच्चे व उनकी बहु है जिसका इनंकम का कोई साधन नही है कैलाश ठाकर कमाने वाला अकेला था।

क्या कहते है शैलर मालिक?
जब इस घटना के बारे में शैलर मालिक अशोक कुमार से बात की गई तो उनका कहना था कि कैलाश ठाकर मजदूरी करने के लिए मेरे पास शैलर में आया हुआ था लेकिन आज कैलाश ठाकर की अचनाक हादसा हो गया लेकिन हम कैलाश ठाकर के परिवार के लिए जितनी अधिक से अधिक मदद की जाएगी।

क्या कहते है बाबैन थाना प्रभारी?
जब इस घटना के बारे में बाबैन थाना प्रभारी छोटूराम से बात की गई तो उनका कहना था कि आज सुबह मुझे सूचना मिली थी की मारकडा राईस मिल में एक मजदूर की मौत हो गई है तभी मैने मौके पर पहुंचकर शव को कब्जे में लिया और उसे पोस्टर्माटम के लिए भेज दिया गया है और जो कानूनी कारवाई होगी उसे अमल में लाया जाएगा।

LEAVE A REPLY