गुर्जर को बदनाम कर फरीदाबाद से फिर सांसद बनना चाहते हैं अवतार भड़ाना

फरीदाबाद: कई महीने से भाजपा विधायक एवं पूर्व कांग्रेसी सांसद अवतार सिंह भड़ाना केंद्रीय राज्य मंत्री एवं फरीदाबाद के सांसद कृषणपाल गुर्जर को ठीक वैसे घेर रहे हैं जैसे कांग्रेसी नेता उन पर आरोप लगा रहे हैं। भड़ाना वर्तमान में भाजपा के विधायक हैं भले ही उत्तर प्रदेश से हों और भाजपा के नेताओं का कहना है कि उन्हें अपनी पार्टी के खिलाफ ऐसा नहीं बोलना चाहिए लेकिन भड़ाना हाल में फिर गुर्जर और उनके रिश्तेदारों के खिलाफ बोले। एक युवक भूपेश सिंह जो प्रचारणामा के सीईओ हैं उन्होंने एक आंकलन किया है पढ़ें।
फरीदाबाद और तिगांव की राजनीति पर मेरा आंकलन:

आज एक वीडियो आया तो सोचा कुछ आंकलन करूँ, किशनपाल गुर्जर जी के चुनाव में अभी 18 महीने है लेकिन विपक्षी अभी से घेरने में लग गए है, भड़ाना जी तो भाजपा में है फिर भी विपक्ष की तरह व्यवहार कर रहे है एक राजनेता के तौर पर मा0 मंत्री जी को ये बुलबुले शांत कराने चाहिए नही तो भविष्य में राजनीतिक रास्ते की दीवार तो नही लेकिन रोड़ा जरूर बनेंगे ऐसे लोग, रही बात ललित नगर जी की तो विधान सभा मे मुश्किल जरूर होगी अगर देवेंदर चौधरी जी चुनावी मैदान में आते है और इसी संसय से आज से ही 2 साल बाद के चुनावों के लिए जमीन तैयार करना शुरू कर चुके है और सफल भी हो रहे है।

अगर भड़ाना जी किशनपाल जी की छवि को धूमिल करके भाजपा नेतृत्व तक मैसेज ले जाते है तो इसका नुकसान जरूर होगा, और हो सकता है कि फरीदाबाद जनपद के कुछ भाजपा विधायक भी इसके पीछे हों, संगठन में भी आंतरिक विरोध है, कहीं भाजपा से टिकट पर सांसद बनने का रास्ता तो नही तलाश रहे है भड़ाना जी क्योंकि एक भारी बहुमत से जीते सांसद और केंद्र के छोटे स्वरूप में मंत्रालय का कार्यभार सम्हाले किशनपाल जी का टिकट काटना आसान नही होगा, लेकिन गुर्जर समाज से मंत्री वाले कोटे को भुनाया जा सकता है, शायद इसी सोच से भड़ाना जी द्वारा नकारात्मकता फैलाई जा रही है कि उत्तरप्रदेश से कहीं से लोकसभा चुनाव लड़कर जीतें और मंत्रालय में सम्लित हो या फरीदाबाद से टिकट मिल जाय। जो भी हो ये राजनीति है और सबकुछ जायज है सबकुछ संभव है देखते है आनेवाले समय मे ऊँट किस करवट बैठता है.

loading...

Leave a Reply

*