मोदी को हटाने के लिए जंतर-मंतर पर प्रदर्शन करेंगे केजरी, ममता बनर्जी भी देंगी साथ

0
141

नई दिल्ली: तमाम न्यूज़ एजेंसियों के सर्वे में दिल्ली में दुबारा आम आदमी पार्टी की सरकार बन सकती है। कई बार ऐसे सर्वे हुए और हर सर्वे में आम आदमी पार्टी को बढ़त मिलती दिखाया गया। दिल्ली के बाहर आम आदमी पार्टी की ताकत कितनी बढ़ी है इसका सर्वे करें तो केजरीवाल का कद दिल्ली में भले ही ऊंचा हो लेकिन अन्य राज्यों में तेजी से टपक रहा है। शायद यही वजह है कि कांग्रेस में भाव नहीं दे रही है और केजरीवाल कांग्रेस से गठबंधन का हर प्रयास कर रहे हैं। सोशल मीडिया की एक पोस्ट को सच मानें तो केजरीवाल 13 फरवरी को जंतर पर प्रदर्शन कर राहुल गांधी को अपनी ताकत दिखाएंगे ताकि राहुल गांधी उनसे गठबंधन कर लें।

13 फरवरी को 10 बजे जंतर मंतर पर मोदी सरकार के खिलाफ प्रदर्शन को AAP ने “तानाशाही हटाओ, देश बचाओ’ नाम दिया गया है…ममता बनर्जी, चंद्रबाबू नायडू समेत अन्य राज्यों के मुख्यमंत्री और विपक्षी दल के नेता इस प्रदर्शन में शामिल होने जा रहे हैं। सूत्रों की माने तो प्रदर्शन का मुख्य कारण ये है कि केजरीवाल राहुल गांधी को अपनी ताकत दिखाना चाहते हैं ताकि राहुल गांधी उनकी ताकत देख उनसे समझौता कर लें। राहुल गांधी को लगता है कि केजरीवाल से गठबंधन कर कांग्रेस को कुछ नहीं मिलेगा, केजरीवाल और मजबूत हो जाएंगे इसलिए वो केजरीवाल को भाव नहीं दे रहे हैं। राहुल गांधी की ये एक अच्छी सोंच है। ऐसा क्यू पढ़ें देश के लोग केजरीवाल के बारे में क्या सोंचते हैं। सोशल मीडिया की प्रतिक्रियाएं देख लगता है कि आम आदमी पार्टी लोकसभा चुनावों में कुछ ख़ास नहीं कर पाएगी। जो इनसे गठबंधन करेगा ये उन्हें भी ले डूबेंगे।

LEAVE A REPLY