बाहर लोग राहुल गांधी की पेशाब पीने को तैयार है, आप इतना छोटा काम नहीं कर सकते? कमलनाथ

0
211

नई दिल्ली: एक समय में देश में कांग्रेस की तूती बोलती थी लेकिन एक ऐसा भी समय आया है कि कोई विपक्षी पार्टी कांग्रेस का हाँथ पकड़ने के लिए तैयार नहीं है। वर्तमान के कांग्रेस की राजनीति जिस तरह हिचकोले खा रही है ऐसा कभी नहीं देखा गया। कांग्रेस वर्तमान में हिंदुत्व का चोला पहन अपनी ताकत बढ़ाना चाहती है लेकिन अल्पेश, जिग्नेश, हार्दिक जैसे न जाने कितने लोगों का कांग्रेस ने साथ लिया है जो किसी एक जाति की राजनीति करते हैं और कांग्रेस की केंद्रीय राजनीति को धरातल पर ऐसे लोग ही ला रहे हैं। हिंदुओं को बदनाम करने की साजिश के तहत कांग्रेस पार्टी द्वारा रचित शब्द ‘हिन्दू आतंकवाद’ को लेकर धीरे धीरे बड़े खुलासे हो रहे हैं। गृह मंत्रालय के पूर्व सेक्रेटरी आरवीएस मणि (RVS Mani) ने अपने वीडियो में चौकाने वाला खुलासा करते हुए विस्तार से बताया कि हिन्दू आतंकवाद की अवधारणा के पीछे कैसे सीधे तरह से कांग्रेसी सांसद और मध्य प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ का हाथ था।
एक घण्टे लम्बे वीडियो में आरवीएस मणि बताते है कि किस तरह इशरत जहां एनकाउंटर केस में प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी को फँसाने के लिए कांग्रेसी नेतृत्व द्वारा उन पर दबाव बनाया गया था। वो आगे बताते है कि कैसे सुनियोजित तरीके से ” हिन्दू आतंकवाद” शब्द गढ़ा गया था।

आरवीएस मणि बताते है कि शहरी विकास मंत्रालय में कमलनाथ उनसे मिले और गुजरात के तत्कालीन मुख्यमंत्री नरेंद्र मोदी को इशरत जहां एनकाउंटर केस में फ़साने के नैरेटिव बदलने के लिए कहा। मणि ने दावा किया कि उन पर दबाव बनाया जा रहा था कि वो इशरत जहां को मासूम बताये और इस एनकाउंटर को फ़र्ज़ी दिखाकर गुजरात सरकार को कटघरे में खड़ा करें।

आरवीएस मणि ने बताया कमलनाथ दो अधिकारियों के साथ उनसे मिलने आये और एनकाउंटर के तथ्यों को बदलने के लिए उन पर दबाव बनाने लगे, पर आरवीएस मनी ने तथ्यों को बदलने या किसी भी प्रकार से सबूतों से छेड़छाड़ करने से इनकार कर दिया।

आरवीएस मनी के इनकार करने के बाद कमलनाथ ने उन्हें जो जवाब दिया अगर उसको सही माने तो वो बहुत ही ज्यादा चौकाने वाला था। कमलनाथ ने कहा “बाहर लोग राहुल गांधी की पेशाब पीने तैयार है, आप इतना छोटा काम नहीं कर सकते हो? मणि ने जवाब दिया “आप लोगो को पेशाब पीने का टेस्ट होगा, मैं नहीं पीता, मैं सच के साथ खड़ा हूँ।”

फरीदाबाद के सांसद एवं केंद्रीय राज्य मंत्री कृष्ण पाल गुर्जर ने मणि का वीडियो रि ट्वीट करते हुए लिखा है कि कमल नाथ जी? समझने वाले मंत्री गुर्जर के ये तीन शब्द समझ जाएंगे, देखें वीडियो

LEAVE A REPLY