देश में आज भी बरकरार है कबड्डी का जलवा: मयंक चौधरी

Kabaddi In Tigaon Faridabad

फरीदाबाद:  कबड्डी खेल हमारी भारतीय संस्कृति से जुड़ा प्राचीन खेल है और इस खेल का स्वरूप आज भले ही बदल गया हो लेकिन इसे देखने की उत्सुकता लोगों में अभी भी बरकरार है। यह विचार युवा समाजसेवी मयंक चौधरी ने गांव तिगांव में कबड्डी मुकाबले में मुख्य अतिथि के रूप में भाग लेते हुए व्यक्त किया।  उन्होंने कहा कि कबड्डी खेल से जहां आपसी भाईचारे को बढ़ावा देता है वहीं शारीरिक व मानसिक विकास भी होता है। उन्होंने प्रतियोगिता में भाग लेने वाले सभी खिलाडियों का उत्साहवर्धन करते हुए कहा कि खेलों को हार-जीत से नहीं बल्कि खेल भावना से खेलना चाहिए। चौधरी ने कहा कि असली खिलाडी वहीं होता है, जो खेल भावना से खेल खेलकर लोगों का दिल जीत लेता है। कबड्डी मुकाबले का आयोजन करतार पहलवान ने किया था। इस मौके पर जगत डागर, सत्ते नम्बरदार, हर्ष नागर, मयंक शर्मा, राहुल सरपंच सहित सैकड़ों लोग मौजूद थे।

loading...

Leave a Reply

*