क्राइम ब्रांच के जाल में फंस गए तीन बदमाश

Jhajjar CIA News

सन्तोष सैनी झज्जर: झज्जर पुलिस की सीआईए टीम द्वारा गश्त के दौरान मिली गुप्त सूचना के आधार पर कार्रवाई करते हुए एक बाइक व अवैध हथियारों के साथ आने जाने वाले राहगीरों के वाहनों को लूटने की नियत से रुकवाने की कोशिश करते 3 बदमाशों राम भगत उर्फ मिंटू पुत्र सुरेश कुमार निवासी दुर्गा कॉलोनी बहादुरगढ़ , कृष्ण पुत्र रमेश कुमार निवासी न्यू पटेल नगर गली नंबर 17 लाइनपार बहादुरगढ़ तथा दीपक उर्फ टोनी पुत्र कृष्ण कुमार निवासी नई बस्ती गली नंबर 4 बहादुरगढ़ को गिरफ्तार किया गया है। पकड़े गए बदमाशों ने प्राथमिक पूछताछ में छीना झपटी व लूटपाट सहित गंभीर किस्म की अनेक वारदातो का खुलासा किया है।
मामले की विस्तार से जानकारी देते हुए विशेष रुप से अपराधियों की धरपकड़ तथा अपराधों की रोकथाम के लिए गठित की गई विशेष अपराध जांच शाखा झज्जर के प्रभारी निरीक्षक ललित कुमार ने बताया कि सीआईए झज्जर की टीम द्वारा गश्त के दौरान मिली गुप्त सूचना के आधार पर तत्परता से कार्रवाई करते हुए तीन बदमाशों को गिरफ्तार करने में सफलता हासिल की है।
उन्होंने बताया कि सहायक उपनिरीक्षक जयभगवान के नेतृत्व में अपराध जांच शाखा झज्जर की टीम में तैनात हेड कांस्टेबल नरेश कुमार, सिपाही सुनील कुमार, राजेश कुमार, अमरजीत व प्राइवेट मारुति गाड़ी के चालक मुख्य सिपाही सुरेंद्र कुमार की टीम द्वारा गुप्त सूचना के आधार पर तीन बदमाशों को कड़ी मशक्कत के बाद अवैध हथियारों तथा एक बजाज पल्सर बाइक के साथ के साथ काबू किया गया है।
सीआईए झज्जर प्रभारी निरीक्षक ललित कुमार ने बताया कि एरिया झज्जर बाईपास रोड बिरधाना मोड़ के पास गश्त पर तैनात थी। टीम को गुप्त सूचना मिली कि पल्सर बाइक पर सवार 3 युवक झज्जर-बिरधाना रोड पर स्थित गांव जोन्धी व गुड्डा चौक के पास आने जाने वाले राहगीरों के वाहनों को लूटने की नियत से रुकवाने की कोशिश कर रहे हैं। उनके पास हथियार भी हैं।

सूचना पर पुलिस टीम तत्परता से सक्रिय होकर प्राइवेट गाड़ी सहित मौका पर पहुंची तो गांव गुड्डा की तरफ से आई एक पल्सर मोटरसाइकिल पर सवार बदमाशों ने लूट की नियत से बाइक को गाड़ी के आगे अड़ाकर कर रुकवाया। बाइक से उतर कर दो बदमाश हथियारों सहित गाड़ी के दोनों तरफ खिड़कियों पर झपटे। गाड़ी में पुलिस टीम को देख कर बदमाश एकदम से भागने की कोशिश करने लगे, जिस पर पुलिस टीम द्वारा तत्परता से पीछा करके कड़ी मशक्कत के बाद तीन बदमाशों को काबू किया गया।
बदमाशों के कब्जे से मौका पर दो देसी पिस्तौल तथा 4 जिंदा कारतूस सहित वारदात में इस्तेमाल की गई पल्सर बाइक बरामद की गई। उन्होंने बताया कि पकड़े गए बदमाशों ने प्राथमिक पूछताछ में गंभीर किस्म की लूटपाट व छीना-झपटी की अनेक वारदातो का खुलासा किया । बदमाशो ने खुलासा करते हुए बताया कि उन्होंने अपने साथियों के साथ मिलकर हथियारों के बल पर संगीन किस्म की करीब आधा दर्जन वारदातों को अंजाम दिया । जिनमें  करीब ढाई महीने पहले झज्जर बादली रोड से हथियारों के बल पर प्याज बेच कर आ रहे एक व्यक्ति से उसका ट्रैक्टर व करीब 35000 रुपए छीनने की वारदात को अंजाम दिया था ।
वर्ष 2015 में बादली बाईपास बादली के एरिया में एक व्यक्ति को गाड़ी में लिफ्ट देकर हथियारों के बल पर उसका एटीएम छीन लिया तथा एटीएम में ले जाकर उससे 50 हजार रुपए निकलवाने की वारदात को अंजाम दिया था ।
करीब डेढ़ वर्ष पूर्व बहादुरगढ़ में एक मनी ट्रांसफर के ऑफिस से हथियारों के बल पर करीब ढ़ाई लाख रुपए लूटने की वारदात को अंजाम दिया था। करीब डेढ़ दो माह पूर्व झज्जर सिटी एरिया में सिंडिकेट बैंक के पास एक महिला से उसका पर्स व मोबाइल छीनने की वारदात को अंजाम दिया था। वही वर्ष 2017 में ही झज्जर से बेरी रोड पर एक व्यक्ति से हथियारों के बल पर जबरदस्ती 25 हजार रुपए छीनने की वारदात को अंजाम दिया था।
सीआईए प्रभारी ने बताया कि पकड़े गए अपराधिक गिरोह के तीनों आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई करते हुए थाना झज्जर में मामला दर्ज किया गया। पकड़े गए तीनों आरोपियों को अदालत झज्जर में पेश किया गया। अदालत के आदेशानुसार तीनों आरोपियों को न्यायिक हिरासत भेज दिया गया।

loading...

Leave a Reply

*