हरियाणा में महिलाआें के लिए भी हैलमेट पहनना अनिवार्य किया गया

0
300

चण्डीगढ़, 22 सितंबर – हरियाणा में महिलाओं की सुरक्षा सुनिश्चित करने के दृष्टिगत दो-पहिया वाहन चालक व सवार महिलाआें के लिए भी हैलमेट पहनना अनिवार्य किया गया है। हरियाणा परिवहन विभाग के एक प्रवक्ता ने यह जानकारी देते हुए बताया कि यह निर्णय पंजाब एवं हरियाणा उच्च न्यायालय के निर्देशों की अनुपालना में हरियाणा मोटर वाहन नियम, 1993 के प्रावधानों के तहत लिया गया है।

उन्होंने कहा कि किसी भी प्रकार के दो-पहिया वाहन के प्रत्येक चालक या सवार व्यक्ति को भारतीय मानक ब्यूरो द्वारा स्वीकृत सुरक्षित हैलमेट पहनना होगा। इसकी उल्लंघना करने वालों का विभाग द्वारा चालान किया जाएगा। यद्यपि ऐसे व्यक्ति, जिसे मुख्य चिकित्सा अधिकारी द्वारा ऐसा हैलमेट न पहनने की सलाह दी गई है या सिक्ख, जिसने पगड़ी पहनी हो, को हैलमेट पहनने से छूट होगी।

उन्होंने कहा कि परिवहन विभाग द्वारा निरीक्षण के लिए सख्त अभियान चलाया जाएगा और लोगों को हैलमेट की महत्ता की जानकारी देने के लिए सड़क सुरक्षा जागरूकता कार्यक्रमों का आयोजन किया जाएगा।

परिवहन विभाग ने चालू वित्त वर्ष के दौरान जनवरी से जुलाई 2018 के दौरान हैलमेट न पहनने वाले 4,03,907 दो-पहिया वाहन सवारों 1,50,855 पिछली सीट पर बैठने वाली सवारी के चालान किए हैं। इनमें से 11,309 चालान मई 2018 और जून 2018 के दौरान हैलमेट न पहनने वाली महिलाओं को जारी किए गये हैं। उन्होंने बताया कि इन नियमों की अनुपालना सुनिश्चित करने के लिए ऐसे अभियान जारी रहेंगे।

LEAVE A REPLY