युवती ने युवक को फंसाया, अश्लील वीडियो बना मांग रही थी एक करोड़, पकड़ा गया गिरोह

0
149

चंडीगढ़: हरियाणा में हनीट्रैप के मामले बढ़ते जा रहे हैं। ताजा मामला सिरसा से आ रहा है जहां डिंग थाना पुलिस ने कुछ लोगों को गिरफ्तार किया है। पुलिस के मुताबिक़ फतेहाबाद शहर के व्यापारी दलीप सिंह के बेटे दिशांत उर्फ दिशू के पास कुछ दिन पहले एक वाट्सएप कॉल आई। एक अर्पण नाम की युवती बोल रही थी। उसने खुद को पंजाब की बताया और ऐसे ही कॉल करने की बात बोली। उसके बाद दोनों में चैट होनी शुरू हो गई। दिशांत को अपने प्रेम के जाल में फांसते हुए 8 अगस्त की शाम को फतेहाबाद के एक अस्पताल के पास मिलने बुलाया। दिशांत अपनी गाड़ी लेकर उसके पास चला गया। वो उसके साथ गाड़ी में बैठ गई। पहले दिशांत ने उसे इधर उधर घुमाया। उसके बाद वह उसे सिरसा छोड़ने के लिए बोली। दिशांत उसे सिरसा लेकर जाने लगा। डिंग के पास पहुंचने के बाद अर्पण ने पेशाब करने के बहाने से गाड़ी रुकवाई। वह नीचे उतर गई। इसी दौरान पीछे से एक स्कॉर्पियो आई। उसमें से चार लोग दिशांत के पास आए और उसे अपनी गाड़ी में बैठाकर साथ ले गए। उनके साथ ही अर्पण बैठ गई। सभी लोग पंजाब में किसी अज्ञात ठिकाने पर दिशांत को लेकर गए। वहां पर उसके साथ मारपीट की और बंधक बना लिया।

चारों ने लोगों ने दिशांत के पास अर्पण नामक युवती को भेजा और उसकी अश्लील क्लिप तैयार करते हुए वीडियो बना ली। उसके बाद पांचों ने दिशांत से एक करोड़ रुपए की राशि मांग। वरना सोशल मीडिया पर अश्लील क्लिप जारी करने की धमकी दे दी। दिशांत ने घबराते हुए कुछ जवाब नहीं दिया तो उसको पीटा। इसके बाद दिशांत ने इतनी रकम नहीं होने की बात कही। आखिर में दस लाख रुपए देने की बात हुई। इस पर वे लोग मान गए और दिशांत को समय और तारीख बताते हुए उसके मोबाइल नंबर लेकर छोड़ दिया। इस दौरान उसके गले से सोने की चैन भी उतार ली। इसके बाद दिशांत घर आ गया। उसने अपने परिजनों को पूरी बात बताई। इसके बाद परिजनों ने डिंग थाना में सूचना दी।

एसपी हामिद अख्तर ने इसके लिए सिरसा सीआईए और डिंग थाना पुलिस की टीमें गठित कर दी। इसके बाद पुलिस ने दिशांत को पूरी प्लानिंग समझा दी। शुक्रवार को दिशांत को फोन करके गिरोह ने फतेहाबाद की सोमा सिटी कॉलोनी में पैसों के साथ बुलाया। दिशांत ने पुलिस को सूचना दे दी। उसके बाद दिशांत वहां गया तो मौके से युवती अर्पण निवासी संगत कला पंजाब, उसका प्रेमी लखबीर उर्फ सोनी निवासी हजरांवा और उसका दोस्त गुरमीत निवासी हजरांवा को रंगेहाथ पकड़ लिया। बाकी दो सदस्य अभी फरार है। उन्हें भी गिरफ्तार कर लिया जाएगा। एसपी हामिद अख्तर ने बताया कि तीनों ही आरोपी हेरोइन का नशा करते हैं। इसी लत को पूरा करने के लिए उन्होंने जाल बिछाया और दिशांत को फंसा लिया।

LEAVE A REPLY