धान की रोपाई जारी रखें, सब्जियों की सिंचाई न करें किसान, 7 तक होती रहेगी बारिश

0
979

चंडीगढ़, 4 जुलाई- हरियाणा में आगामी 7 जुलाई तक मौसम परिवर्तनशील की संभावना है और इस दौरान बीच बीच में आंशिक बादलवाई और हवाए के साथ 5 जुलाई तक कहीं बूंदाबांदी या हल्की बारिश की संभावना है।
इस संबंध में जानकारी देते हुए चौधरी चरण सिंह हरियाणा कृषि विश्वविद्यालय के एक प्रवक्ता ने बताया कि इस दौरान अधिकतम तापमान 36 से 39 डिग्री सेल्सियस के मध्य तथा न्यूनतम तापमान 24 से 28 डिग्री सेल्सियस के बीच की संभावना है जबकि हवा में आद्रता 40 से 70 प्रतिशत व हवा चलने किी औसत गति 8 से 12 किलोमीटर प्रति घंटा के मध्य रहने की संभावना है।
संभावित मौसम को देखते हुए किसानों को सलाह देते हुए उन्होंने बताया कि धान की नर्सरी खेत लगाना जारी रखे, धान में पदगलन और बकानी से बचाव के लिए धान की पनीरी उखाडने से 7 दिन पहले कार्बेन्डाजिम 1 ग्राम प्रति वर्ग मीटर की दर से रेत में मिलाकर पनीरी में एक सार अवश्य बिखेर दें। इसी प्रकार, कपास व नरमा में पानी की निकासी का प्रबंध अवश्य कर लें ताकि बाद में पानी खडा न रहे। अच्छी बारि’श होने के कारण बत्तर आने पर आव’श्कता अनुसार नरमा कपास में निराई गुडाई व खाद प्रबंधन करें।
उन्होंन बताया कि बाजरा व ज्वार की बिजाई करते हुए मौसम का ध्यान रखें। पंूजीकृत नर्सरी से नए फलदार पौधे लेकर अपने खेत में विन्न्विद्यालय की सिफारिश्नुसार लगाएं। सब्जियों वं फलदार पौधे में सिंचाई रोक लें।
प्रवक्ता ने बताया कि परिवर्तनशील मौसम व बारिश की संभावना को देखते हुए पशुओं को पर आवश्कता अनुसार पशुशाला में बांधे। प’शुओं के अच्छे स्वास्थ्य व दुग्ध उत्पादन के लिए 50 ग्राम नमक तथा 50 से 100 ग्राम खनिज मिश्रण प्रति पशु दें तथा आवश्कतानुसार हरा चारा भूसे के साथ अवश्य खिलाऐं।

LEAVE A REPLY