कांग्रेस मुक्त भारत देख बौखलाए सिद्धारमैया, कैप्टन अभिमन्यु

0
115
4647 crore from GST To Haryana Govt

चंडीगढ़, 13 जनवरी- हरियाणा के वित्त मंत्री कैप्टन अभिमन्यु ने कहा की कांग्रेस पार्टी ने हमेशा परिवारवाद, तुष्टिकरण और धर्म की राजनीति की है और इसके नेताओं को ना देश की विरासत से कोई मतलब है ना परम्पराओं से।
कर्नाटक के मुख्यमंत्री सिद्धारमैया द्वारा भाजपा और संघ के लोगों को आतंकवादी बताने पर कड़ी प्रतिक्रिया देते हुए कैप्टन अभिमन्यु ने कहा की भाजपा और संघ के नेताओं और कार्यकर्ताओं के लिए राष्ट्र सर्वोपरि है और ये हमेशा ‘वसुधैव कुटुम्बकम’ की नीति पर चलते हैं. सिद्धारमैया का ब्यान उनकी बौखलाहट को दर्शाता है। उनका यह बयान कांग्रेस मुक्त भारत के सपने को साकार करने की दिशा में अहम् भूमिका निभाते हुए कांग्रेस के ताबूत में आखिरी कील साबित होगा।

यहॉं जारी एक बयान में कैप्टन अभिमन्यु ने कहा कि देश के लोग कांग्रेस पार्टी की नीति और नियत से भली भांति परिचित हैं। देश ने करीब 65 वर्षों तक इनका कुशासन देखा है जिसमें भ्रष्टाचार, भाई-भतीजावाद, परिवारवाद और तुष्टिकरण के अलावा कुछ नहीं था। उन्होंने कहा की देश की जनता ने कांग्रेस के कुशासन को 2014 के लोकसभा चुनावों में उखाड़ कर भाजपा की सरकार बनाई थी और उसके बाद से देश के अधिकतर राज्य के लोगों ने भी कांग्रेस को सत्ता से बाहर कर दिया। देश की जनता ने लगातार माननीय प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व और भाजपा की नीतियों पर मोहर लगाई है। भाजपा अध्यक्ष श्री अमित शाह की संगठन क्षमता का लोहा पूरी दुनिया ने माना है। उनके नेतृत्व में आज भाजपा दुनिया का सबसे बड़ा राजनीतिक दल है। उन्होंने कहा की गत तीन वर्षों में जनता को जहाँ भी मौका मिला उसने कांग्रेस मुक्त भारत की दिशा में एक कदम बढा दिया। अब बारी कर्नाटक की है जहाँ से कांग्रेस का सत्ता से बाहर होना और भाजपा की सरकार बनना तय है।

हरियाणा के वित्त मंत्री ने कहा कि कर्नाटक में पिछले तीन सालों के दौरान भाजपा और संघ के कई कार्यकताओं की हत्याएं हुई हैं। राज्य सरकार इन मामलों की जांच तक करवाने में रूचि नहीं ले रही है। वहां कानून की बजाय गुंडागर्दी और तानाशाही का राज है। कर्नाटक के मुख्यमंत्री अब सत्ता जाने की बौखलाहट में जिस तरह के ब्यान दे रहे हैं उनसे पता चलता है की मानसिक तौर पर दिवालिये हो चुके हैं। वे वोट बैंक और तुष्टीकरण की राजनीति कर रहे हैं। उन्होंने कहा की कर्नाटक की जनता बेसब्री से चुनावों का इंतज़ार कर रही है ताकि वह कांग्रेस को उस राज्य की सत्ता से भी बाहर कर सके।

LEAVE A REPLY