दोस्ती में दरार के बाद रेप का केस दर्ज करवा देती हैं लड़कियां: खट्टर

0
606
Haryana CM Manohar Lal In Rohtak

चंडीगढ़: हरियाणा के मुख्यमंत्री सीएम मनोहर लाल खट्टर ने प्रदेश में बढ़ रही महिलाओं से रेप की घटनाओं पर बड़ा ही शर्मनाक बयान दिया है। उन्होंने रेप व छेड़छाड़ के मामलों में सीधा ही लड़कियों और महिलाओं को दोषी बताया है। सीएम का कहना है कि रेप व छेड़छाड़ के अस्सी प्रतिशत घटनाएं लड़कियों के जानकारों के बीच ही होती हैं। वहीं, उन्होंने ये भी कहा कि प्रदेश में रेप की घटनाएं बढ़ी नहीं हैं। पहले भी रेप होते थे, आज भी होते हैं, लेकिन ये चिंता का विषय है। उन्होंने यह बयान एक कार्यक्रम में लोगों को संबोधित करते हुए दिया था।

सीएम मनोहर लाल खट्टर ने अपने भाषण में कहा कि प्रदेश में रेप की घटनाएं जब सामने आती हैं तो ये विचार किया जाता है कि रेप की घटनाएं बढ़ गई हैं। उन्होंने कहा कि रेप बढ़े नहीं हैं, रेप पहले भी होते थे, आज भी होते हैं, अब चिंता बढ़ी है। सबसे बड़ी चिंता ये है कि रेप व छेड़छाड़ की घटनाएं 80-90 प्रतिशत जानकारों को बीच होती हैं। उन्होंने कहा कि बहुत घटनाएं ऐसी होती हैं, जिसमें वे (पीड़ित और आरोपी) एक-दूसरे को जानते होते हैं, एक-दूसरे के साथ घूमते होते हैं और थोड़ी गड़बड़ हो गई तो एफआईआर दर्ज करवा देते हैं कि इसने मेरा रेप किया है।

अब सीएम मनोहर लाल खट्टर के इस बयान ने महिलाओं की अस्मिता और आजादी पर सवाल उठा दिया है। सवाल ये है, क्या लड़कियां अपने दोस्तों के साथ नहीं घूम सकतीं? या इन घटनाओं में सारी गलती महिलाओं की ही होती है? वहीं, सीएम के बयान ने यह सोचने पर मजबूर कर दिया है कि प्रदेश में जो छोटी बच्चियों से रेप और बर्बरता की घटनाएं व युवतियों का अपहरण करके उनका बलात्कार करने जैसी घटनाओं में भी पीड़िता आरोपियों के साथ घूमती नजर आती हैं या फिर छोटी बच्चियां वहशी दरिंदों को आमंत्रण देती हैं।

LEAVE A REPLY