गांव खिजराबाद का नाम बदलकर महान योद्धा महाराणा प्रताप के नाम पर प्रताप नगर रखा जाएगा, खट्टर

0
1707
Haryana CM Manohar Lal sps News

चंडीगढ़, 23 सितंबर- क्षेत्र के लोगों की दीर्घकालिक मांग को पूरा करते हुए हरियाणा के मुख्यमन्त्री श्री मनोहर लाल ने घोषणा की कि जिला यमुनानगर में पौंटा साहिब से हथनीकुण्ड बैराज तक नई सडक़ का निर्माण किया जाएगा। इसके अतिरिक्त, 20 करोड़ रुपये की लागत से खिलावला में एक डैम का निर्माण किया जाएगा, जिससे इस क्षेत्र के लगभग 32 गांव लाभान्वित होंगे। पर्यटन की दृष्टि से इस क्षेत्र की महत्ता पर प्रकाश डालते हुए मुख्यमन्त्री ने कहा कि राज्य सरकार ने कालेसर से हथनीकुण्ड बैराज के क्षेत्र को एक पर्यटन गंतव्य स्थल के रूप में विकसित करने की एक योजना बनाई है। उन्होंने कहा कि आदिबद्री, लौहगढ़, त्रिलोकपुर, काला अम्ब और पिंजौर के क्षेत्रों सहित पहाड़ी के साथ-साथ कालेसर से कालका तक एक कोरीडोर विकसित किया जाएगा, जो इस क्षेत्र में पर्यटन को बड़े पैमाने पर बढ़ावा देगा।
श्री मनोहर लाल आज जिला यमुनानगर के गांव खिजराबाद के श्री विरेन्द्र मोहन गीता विद्या मंदिर में मुख्य अतिथि के रूप में बोल रहे थे। इस अवसर पर उन्होंने दो करोड़ रुपये की लागत से 1.72 एकड़ भूमि पर निर्मित किए जाने वाले बस अड्डे की आधारशिला रखी।
मुख्यमन्त्री ने लोगों की मांग पर घोषणा की कि गांव खिजराबाद का नाम बदलकर महान योद्धा महाराणा प्रताप के नाम पर प्रताप नगर रखा जाएगा। उन्होंने ग्राम पंचायत को इस सम्बन्ध में विधिवत रूप से स्वीकृत कर एक प्रस्ताव राज्य सरकार को भेजने के लिए कहा।
उन्होंने जगाधरी विधानसभा क्षेत्र के लिए करोड़ों रूपयों की विकास परियोजनाओं की घोषणा कर इस क्षेत्र के साथ पिछली सरकार के 10 वर्षों के कार्यकाल में हुए भेदभाव को खत्म किया है और सबका साथ-सबका विकास सरकार के मूलमंत्र को चरितार्थ किया।

इस अवसर पर आदर्श गांव खदरी में 1.22 करोड़ रूपये की विकास परियोजनाओं, जिसमें मुख्यमंत्री ने अपने स्वैच्छिक कोटे से 51 लाख रुपये, सांसद स्थानीय क्षेत्र विकास कोष से 21 लाख रुपये, स्थानीय विधायक व विधानसभा स्पीकर कंवर पाल के स्वैच्छिक कोटे से 51 लाख रुपये शामिल हैं।
भारी बारिश व खराब मौसम के बावजूद छाता लेकर उनको सुनने के लिए उपस्थित भीड़ से गदगद मुख्यमंत्री ने इस उपस्थिति के लिए सभी का आभार व्यक्त किया और कहा कि वर्ष 1984 से 1990 तक संघ प्रचारक के रूप में लोगों द्वारा दिए गए सहयोग का आज सही मायने में कर्ज अदा हुआ है। उन्होंने याद कराया कि जब प्रचारक के रूप में वे लोगों को एकत्रित करते थे तो मुश्किल से 100 लोग तक जुट पाते थे, लेकिन आज खराब मौसम में भी हजारों की संख्या में उनको सुनने के लिए यहां के लोग विशेषकर महिलाएं उपस्थित थी यह उनके जीवन का सबसे यादगार पल है। उन्होंने कहा कि यह हल्का उनका अपना ही हलका है और वे चप्पे-चप्पे से वाकिफ है।
मुख्यमंत्री ने अपने स्वैच्छिक कोष से विरेन्द्र मोहन गीता स्कूल व उसके सभागार के लिए 31 लाख रूपये देने की घोषणा भी की। इस के अलावा उन्होंने परिवहन मंत्री श्री कृष्ण लाल पंवार व विधानसभा स्पीकर व स्थानीय विधायक कवंर पाल की ओर से 11-11 लाख रुपये देने की घोषणा भी की है।

LEAVE A REPLY