हरियाणा के सरपंच की गोली मारकर हत्या, सरपंच ने किया था गाड़ी छीन भाग रहे बदमाशों का पीछा

0
681

चंडीगढ़: भिवानी के साथ लगते दादरी जिले के गांव हड़ौदी के सरपंच अनिल को अज्ञात बदमाशों द्वारा गोली मारने से मौके पर मौत हो गई है। फ़िलहाल पुलिस पुरे मामले की जांच कर रही है। गांव वालो ने दो बदमाश पकड़कर पुलिस के हवाले कर दिए है। दो अँधेरे का फायदा उठाकर मोके से फरार हो गए है। पुलिस ने भिवानी, दादरी, झुंझनु जिले की सीमाओं को सील कर दिया। गांव मे तनाव का माहौल बना हुआ है। बाढड़ा के विधायक सुखबीर मांढी ने बताया कि सरपंच ने बहादुरी का काम किया है। हरियाणा सरकार की तरह से 10 लाख रूपये मृतक के परिजन को दिए जायेंगे। शव को पोस्टमॉडम के लिए भिवानी सामान्य हस्पताल में लाया गया।

आपको बता दे कि कल देर रात को गाड़ी चोरी के इरादे से आये चार अज्ञात बदमाशों ने गांव हड़ौदी के सरपंच अनिल से गाड़ी छीन ली। बाद में गांव वालों के साथ जाकर बदमाशों का पीछा किया तो बदमाशों ने सरपंच अनिल पर गोली चला दी। गोली लगने से अनिल की मौत हो गई। यह सब देखकर गांव वाले भड़क गए। ओर बदमाशों पर हमला बोल दिया। इस दौरान दो बदमाश को पकड़ लिए। बाकी दो गाड़ी लेकर फरार हो गए।

मृतक के परिजनों ने शहीद की मांग की है। क्योकि सरपंच ने ही सबसे पहले बहादुरी दिखाते हुए उनका पीछा किया। पता चला है कि इनमे से दो बदमाश तो कुछ दिनों पहले हिसार जेल तोड़कर फरार हुए थे। दादरी जिले के गांव तिवाला एक बदमाश फौजी नाम से मशहूर पेरोल पर आया था। वापिस जेल में नहीं गया। लेकिन पुलिस ने अभी तक इन नामो की कोई पुस्टि नहीं की है।
मृतक अनिल के भाइयो ने बताया कि कल रात को चार बदमाशों ने हमारी गाड़ी छीन ली। जब हमने उनका पीछा किया तो उन्होंने गोली मार दी। गोली गलने से अनिल की मौत हो गई। वही बाढड़ा के विधायक सुखबीर मांढी ने बताया कि सरपंच ने बहादुरी का काम किया है। बदमाशों को पकड़ने में मदद करने वाले गांव निवासियों को हरियाणा सरकार सम्मानित करेगी। हरियाणा सरकार 10 लाख रूपये मृतक के परिजन को देगी।
वही DSP जगत सिंह ने बताया कि इस मामले में दो बदमाशों को पकड़ लिया है। बाकि के बदमाशों को पकड़ने के लिए चार टीमें बनाई गई है। जल्दी ही दूसरे आरोपियों को पकड़ लिया जायेगा।

LEAVE A REPLY