बेटियों की तो बात ही छोडो हरियाणा में बेटे भी नहीं है सुरक्षित : विकास चौधरी

Girls Boys Note Safe In Haryana, Vikas Chaudhary

फरीदाबाद। गुडग़ांव के रेयान स्कूल में हुए छात्र हत्याकांड के बाद गांव सीकरी के सरकारी स्कूल के 7वीं कक्षा में पढऩे वाले राहुल नामक छात्र का स्कूल से अपहरण कर कुकर्म करने के बाद हत्या के मामले ने सरकारी स्कूलों में सुरक्षा के दावों की कलई खोलकर रख दी है। इस हत्याकांड के तीन दिन बीतने के बावजूद भी प्रदेश के किसी भी मंत्री व सरकारी प्रतिनिधि ने अभी तक पीडि़त परिवार के प्रति न तो सांत्वना व्यक्त की है और न ही मामले की जांच बैठाई गई है। वहीं इसी गांव के एक अन्य मामले में मजदूर परिवार के एक 15 वर्षीय संजीव पुत्र महावीर के लापता होने के एक साल बाद भी पुलिस ने रिपोर्ट तक दर्ज नहीं की है। संजीव भी सीकरी के इसी सरकारी स्कूल में शिक्षारत था। छात्र राहुल हत्याकांड ने अब दूसरे पीडि़त मजदूर परिवार ने भी आशंका व्यक्त की है कि कहीं उनके पुत्र की भी इसी तरह हत्या करके कहीं शव को खुर्दबुर्द तो नहीं कर दिया गया है। इस जघन्य हत्याकांड के बाद जहां अभी तक किसी भी सरकारी प्रतिनिधि ने गांव का दौरा नहीं किया है वहीं इस मामले में आज कांग्रेस के प्रदेश प्रवक्ता विकास चौधरी ने अपने समर्थकों के साथ पीडि़त परिवार के घर पर जाकर जहां संवेदना व्यक्त की वहीं दुख की इस घड़ी में कांग्रेस के साथ खड़े होने का विश्वास दिलाते हुए पीडि़त परिवार को गुप्त आर्थिक सहायता भी प्रदान की। इस अवसर पर मृतक छात्र राहुल की मां व अन्य परिजनों ने रोते-बिलखते हुए कांग्रेस नेता विकास चौधरी के समक्ष अपना दुखड़ा बताया कि उनका पुत्र गत 24 अगस्त को सरकारी स्कूल में पढऩे ले लिया गया था तथा वह स्कूल के बाद घर नहीं पहुंचा, जिसके बाद उन्हें पता लगा कि वह स्कूल से ही गायब हो चुका है। इस मामले की शिकायत उन्होंने पहले स्कूल प्रिंसिपल व संबंधित पुलिस चौकी में दी लेकिन दोनों ही जगह से उन्हें निराशा ही मिली। न तो स्कूल प्रशासन ने ही उन्हें कोई सही जानकारी दी और वहीं पुलिस भी उन्हें यूंही घुमाती रही। इस दौरान पीडि़त परिवार अपने पुत्र के लिए दर-दर भटकता रहा तो उन्हें अन्य छात्रों से पता चला कि स्कूल से ही उनके पुत्र राहुल को सूरज नामक युवक बहला फुसलाकर ले गया है, जिसकी शिकायत उन्होंने फिर पुलिस में दी और करीबन 17 दिन बाद पता चला कि आरोपी सूरज ने उनके पुत्र के साथ कुकर्म कर उसकी हत्या कर दी और शव को स्कूल के पीछे पशु अस्पताल परिसर में दबा दिया।

इस मौके पर ग्रामीणों ने कांग्रेस नेता विकास चौधरी को यह भी बताया कि आरोपी सूरज ने एक साल पहले भी एक बच्चे के साथ कुकर्म किया था क्योंकि आरोपी दबंग प्रवृत्ति है, इसलिए उसके समक्ष कोई नहीं बोलता वहीं ग्रामीणों ने एक और मामले से पर्दा उठाते हुए बताया कि गांव सीकरी निवासी 15 वर्षीय संजीव पुत्र महावीर 14 जुलाई, 2016 से लापता है, जिसका परिवार निहायती गरीबी जिंदगी में जी रहा है और मामले में दिलचस्प पहलू यह है कि एक साल बीत जाने के बावजूद भी संजीव की गुमशुदुगी की रिपोर्ट पुलिस थाने में दर्ज तक नहीं की गई है, जो पुलिस व प्रशासन की कार्यशैली पर बड़ा सवाल है। इस मौके पर कांग्रेस के प्रदेश प्रवक्ता विकास चौधरी ने सरकार को घेरते हुए कहा कि गुडग़ांव के रेयान स्कूल में हुए हत्याकांड को मीडिया द्वारा जोर-शोर से उठाने के बाद हरियाणा के उद्योगमंत्री विपुल गोयल ने ये ऐलान किया था कि वह फरीदाबाद के प्रत्येक स्कूल का स्वयं दौरा करके सभी अनियमितताओं की बारीकि से जांच करेंगे, लेकिन उनके यह दावे कितने सही है, यह तो सीकरी के सरकारी स्कूल में हुए इस जघन्य हत्याकांड ने बता दिया है। मामले को दो दिन बीतने के बाद भी उद्योगमंत्री श्री गोयल न तो स्वयं पीडि़त परिवार को ढांढस बंधाने पहुंचे है और न ही सरकार व जिला प्रशासन की तरफ से कोई भी प्रतिनिधि गांव में उनकी सुध लेने पहुंचा है।

उन्होंने कहा कि सरकार प्राईवेट स्कूलों पर तो अकुंश लगाने की बात कर रही है, लेकिन हरियाणा के सरकारी स्कूलों के स्तर का तो राम ही रखवाला है, सीकरी का स्कूल इस बात का जीता-जागता प्रमाण है। उन्होंने कहा कि सरकार एक ओर तो शिक्षा बढ़ावा देते हुए बेटी बचाने की बात करती है, लेकिन अब प्रदेश में बेटी तो सुरक्षित है ही नहीं बेटे भी सुरक्षित नहीं रहे है, जिसके चलते अभिभावकों के मन में असुरक्षा की भावना उत्पन्न हो गई है। उन्होंने पीडि़त परिवार को सरकार की आर्थिक सहायता दिए जाने के साथ-साथ इस मामले में स्कूल प्रशासन के खिलाफ भी सख्त से सख्त कार्यवाही किए जाने की मांग करते हुए जिले के सभी सरकारी स्कूलों में शिक्षा व सुरक्षा पुख्ता किए जाने का भी मांग की है। उन्होंने चेतावनी दी है कि अगर सरकार ने जल्द ही इस ओर ध्यान नहीं दिया तो कांग्रेस पार्टी सडक़ों पर उतर जनआंदोलन करने को मजबूर होगी। इस अवसर पर राजू धारीवाल, ब्रह्मप्रकाश गोयल, सुनील यादव, सोनू बडग़ुर्जर, नित्ता पहलवान, इद्रिश खान, योगेश शर्मा, सुनील सिंह, रोहताश सौरोत, सचिन दहिया, अमन अरोड़ा आदि मौजूद थे।

loading...

Leave a Reply

*