जल्द पैसे दूना करने का लालच देकर 70 करोड़ लेकर भाग गई हरियाणा की एक चिटफंड कंपनी

0
514

नई दिल्ली: देश में आधुनिक ठगों ने गजब का जाल बिछा रक्खा है और लोगों को लालच देकर लाखों ठग रहे हैं। हरियाणा के सिरसा जिले में चिटफंड कंपनी वेल्थ ने भी उपभोक्ताओं को कम समय में पैसे डबल करने का लालच देकर करोड़ों रुपए की ठगी करने के आरोप में फंस गई है। जिसके बाद कंपनी के कार्यलय के बाहर ताला लटक रहा है। कंपीन का सीएमडी और डायरेक्टर मौके से फरार हैं। उपभोक्ता कार्यालय के चक्कर काट काट कर थक गए हैं। लेकिन उनकी कोई सुनने वाला नहीं है। थकहार का फतेहाबाद की एक विधवा महिला ने कंपनी के खिलाफ ठगी का केस दर्ज करवाया। उसके बाद अब अन्य उपभोक्ता भी सामने आने शुरू हो गए है।

ठगी का शिकार हुए गांव कैरांवाली के किसान मांगेराम ने बताया कि उसने बिजली निगम के एक विजिलेंस कर्मचारी की मध्यस्था से कंपनी में 52700, 52700 रुपये की अपने नाम से दो आईडी लगाई थी। 11 महीने बाद दोनों आईडी से सात लाख रुपये आने थे। इससे पहले एक निजी पैलेस में कंपनी का कार्यक्रम हुआ। जिसमें कंपनी के अधिकारियों ने कई लोगों को लाखों रुपये के चैक बांटे थे। इसी लालच में आकर उसने विजिलेंस कर्मचारी को बीच में लेते हुए पैसे लगा दिए थे। उसे केवल 4700 रुपये ही वापस मिले। उसके बाद कंपनी फरार है।

अब वह विजिलेंस विभाग के उस पुलिस कर्मचारी के यहां चक्कर काट रहा है। वह भी अब बहानेबाजी कर रहा है, जबकि कंपनी का सीएमडी उसके खुद का बेटा है। अब वह पुलिस में शिकायत दर्ज करवाएगा। उसके गांव के अन्य लोगों ने भी पैसे लगा रखे हैं। वहीं सिरसा के गोशाला रोड पर फर्नीचर शोरूम संचालक सुभाष वर्मा ने बताया कि विजिलेंस कर्मचारी के विश्वास पर उसने कंपनी में 62 हजार रुपए लगाए थे। उसमें से उसके 20 हजार रुपये वापस मिले हैं।

इसी तरह कंपनी में करीब दो हजार लोगों ने 70 करोड़ रुपए तक जमा करवाए हुए है। विजिलेंस विभाग का कर्मचारी पर्दे के पीछे रहकर कंपनी का कारोबार संभाल रहा था। शहर सिरसा पुलिस ने फतेहाबाद निवासी संतरो पत्नी राजेश कुमार की शिकायत पर कंपनी के अधिकारी सुखचैन अरोड़ा व शिवाजीत सिंह के खिलाफ ठगी का केस दर्ज कर रखा है।

LEAVE A REPLY