फरीदाबाद के 90% लोग कर रहे हैं कूड़े जलाने की शिकायतें, नहीं होती कोई कार्यवाही

फरीदाबाद: पिछले दिनों एक रिपोर्ट में फरीदाबाद शहर को स्वच्छता की और बढ़ते टॉप शहरों में आँका गया और इनाम भी दिया गया। फरीदाबाद की जनता को ये खबर एकदम अचरज लगी क्योंकि हर गली मोहल्ले में कूढ़े के ढेर में आग लगा कर उसे वन्ही स्वाहा कर देना तो यहाँ के सफाई कर्मचारी खुद खुल्ले रूप में कर ही रहे हैं, इनकी शिकायत अगर किसी भी माध्यम से प्रशासन को की जाये तो कोई भी कार्यवाही होती ही नहीं. और सच ये है की हाल ही में CPCB की लाइव रिपोर्ट्स के मुताबिक़ फरीदाबाद देश के सबसे प्रदूषित शहरों में अव्वल आ रहा है. कूड़े का जलना इसके प्रमुख कारणों में से एक माना गया है।

प्रशासन की इस सच्चाई की गहराई में जाते हुए सेव अरावली संस्था ने 11 नवम्बर को अपनेट्विटर पेज पर तीन दिन चलने वाला ऑनलाइन पोल शुरू किया है जिसमे आज सुबह तक 114 आर्गेनिक वोट आ चुके हैं. पोल की अभी तक की वोटिंग के मुताबिक 90% लोग कह रहे हैं की हाँ, फरीदाबाद में अगर कूड़े जलने की शिकायत प्रशासन को की जाए तो कोई कार्यवाही नहीं होती।

पोल पूरा होने पर संस्था इसकी रिपोर्ट केंदीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड, स्वच्छ भारत, पीएमओ ऑफिस, निति आयोग और अन्य सम्बंधित विभागों समेत ‘यूनाइटेड नेशन” को भी भेजेगी जिससे की शहर में सरकार द्वारा लगाए जा रहे पैसे और प्रशासन द्वारा किये जा रहे काम का वास्तविक रूप सभी को पता चल सके।

loading...

Leave a Reply

*