खट्टर सरकार के लिए एक और बुरी खबर, आज सड़क पर उतरेंगे फरीदाबाद के पत्रकार

0
112
Haryana CM In Narnaul

नई दिल्ली: हरियाणा भाजपा के महबूब नेता मनोहर लाल विदेश दौरों से कल वापस लौट आये। सीएम इजराइल में बैगन के खेत में दिखे जबकि लंदन में एक नेवले जैसे जानवर के साथ दिखे। सीएम की वापसी के बाद मंथन शिविरकी तैयारी चल रही है इसके पहले चिंतन शिविर का भी आयोजन किया गया है। सीएम के चिंतन शिविर से भाजपा को कोई खास फायदा नहीं मिलता दिखा और चिंतन शिविर के बाद भी मनोहर लाल हरियाणा भाजपा के ही महबूब नेता बने रहे हरियाणा की जनता के महबूब नेता नहीं बन सके। सोशल मीडिया पर खट्टर का नाम अच्छे मुख्य्मंत्री के तौर पर लेते ही लोग भड़क जाते हैं ठीक यही हाल इनके कई मंत्रियों का भी है जिन्हे सोशल मीडिया पर लोग नकारते हुए दिख रहे हैं। चिंतन शिविर में सरकार ने क्या किया कोई पता नहीं हाँ गाते बजाते लोग जरूर दिखे थे और लगता है मंथन शिविर भी कुछ ऐसा ही होगा।
वर्तमान में खट्टर सरकार से जाट वर्ग के लोग खुश नहीं हैं। उनके साथ जो हुआ वो नहीं भूल पा रहे हैं। दलित और अल्प संख्यक भी सरकार से खुश नहीं दिखते और हाल में इनके एक विभाग ने ब्राह्मणों को भी नाराज कर दिया और अब तक इस समुदाय के लोग सरकार के खिलाफ धरना प्रदर्शन करते दिख रहे हैं। राम रहीम के कई लाख वोटर खट्टर सरकार के हाँथ से निकल चुके हैं। हरियाणा की मीडिया भी खट्टर सरकार से खुश नहीं है और आज फरीदाबाद के पत्रकार सड़क पर उतर रहे हैं। कुछ देर बाद पत्रकार धरने पर बैठने वाले हैं। भाजपा सरकार में पत्रकारों पर फर्जी एफआईआर कर उन्हें परेशान किया जा रहा है। खट्टर सरकार का ख़ुफ़िया विभाग उन तक असली सूचना नहीं पहुंचा पा रहा है। कई ऐसे कारण है कि सरकार का ग्राफ लगातार गिरता जा रहा है। फरीदाबाद की बात करें तो लगता था कि लगता था कि अगले चुनावों में भाजपा एक दो सीट निकाल ले जाएगी लेकिन वर्तमान हालात ऐसे हैं कि एक सीट भी निकलनी मुश्किल है। खट्टर नेताओं के करतूतें और कुछ विभाग के अधिकारियों की करतूतें किसी को पता हो या न पता हों उन्हें अच्छी तरह पता हैं जो आज धरने पर बैठने पर मजबूर हैं। देखते रहें आगे आगे होता है क्या।

LEAVE A REPLY