फरीदाबाद की सड़कों पर कूड़ा फेंकने वालों पर होगी कार्यवाही

0
355

फरीदाबाद। बार बार समझाने के बाद भी जो लोग सडकों पर कूडा फैलाने से बाज नहीं आ रहे हैं अब ईको ग्रीन कंपनी ऐसे सस्ंथान और कंपनी मालिकों की लिस्ट तैयार करके नगर निगम को उनके खिलाफ कार्यवाही करने के लिए देगी। इसी बात को लेकर आज कंपनी के अधिकारियों ने फरीदाबाद के डबुआ स्थित ट्रासंफर स्टेशन का दौरा किया। इस मौके पर कंपनी के सीनियर वाइस प्रेसिडेंट डेविड यंगपिंग जैंग, चीफ ऑपरेशन ऑफिसर गौरव जोशी, गुरूग्राम और फरीदाबाद के मैनेजर विरेन्द्र भाटी मौजूद रहे। सीनियर वाइस प्रेसिडेंट डेविड यंगपिंग जैंग ने कहा कि इस कार्य में आम लोगों का सहयोग अति आवश्यक है ताकि फरीदाबाद को साफ सुथरा बनाया जा सके। उन्होंने कहा कि लोग कूडे सडकों पर ना फैंके बल्कि ईको ग्रीन की गाडियों में ही डाले जिससे कूडे को सही जगह पर इस्तेमाल किया जा सके और लोगों को इसी कूडे बिजली की बचत भी होगी क्योंकि प्लांट में कूड़े को रिसाईकल किया जाएगा जिसके बिजली तैयार की जाएगी। एक तरफ जहां लोगों का गंंदगी से निजात मिलेगी वहीं दूसरी कूडे से लाभ मिलेगा।

इस मौके पर कंपनी के चीफ ऑपरेशन ऑफिसर गौरव जोशी ने बताया कि फरीदाबाद कुछ कंपनी मालिक व सस्थान ऐसे हैं जो कि कई बार समझाने के बाद भी कूड़े को सडक़ों पर फैकने से गुरेज नहीं करते हैं। अब ऐसे में उनके खिलाफ एक लिस्ट तैयार की जा रही है और जल्द इस लिस्ट को नगर निगम के अधिकारियों को सौंप कर उनके चालान काटे जाएगें ताकि गंदगी से शहर को बचाया जा सके। उन्होंने बताया कि कूड़े को सडकों पर फैलाने से ना केवल बिमारियों को न्यौता दिया जाता है बल्कि शहर सूरत भी बिगडती है। उन्होंने बताया कि फरीदाबाद से करीब 6 सौं से 7 सौ टन कूडा प्रतिदिन उठाया जा रहा है जिसे गाडियों के जरिया बंधवाडी प्लांट पर डंप किया जाता है। उन्होंने लोगों से अपील करते हुए कहा कि वे कूड़े को गाडियों में ही डाले ताकि जो शहर में कूडा डालने के लिए खत्ते बनाए गए हैं उनकी संख्या को भी कम किया जा सके। पहले शहर में करीब 680 खत्ते कूडा डालने के लिए बनाए हुए थे जो अब घटकर 470 के करबीन रह गए हैं उनकी मंशा है कि जल्द इन खत्तों को भी जनता के सहयोग से समाप्त किया जाएगा ताकि शहर में जगह जगह कूडा दिखाई ना पडे।

LEAVE A REPLY