SC के आदेश की धज्जियां उड़ा रहे हैं पटाखा प्रेमी मनुष्य, पटाखे फोड़ बढ़ा रहे हैं प्रदूषण

0
67

नई दिल्ली:राजधानी दिल्ली में प्रदूषण बढ़ता जा रहा है। घरों से बाहर निकलने पर लोगों को सांस लेने में तकलीफ हो रही है और कई लोग तो अस्पताल भी पहुँच गए। आर्थिक रूप से सक्षम कुछ लोग एयर प्यूरिफायर खरीद रहे हैं वहीं जो लोग इसे नहीं खरीद सकते वे मास्क का सहारा ले रहे हैं। आम जनता का वैसे ही दम घुट रहा है। उनके पास न एयर प्यूरिफायर न ही मास्क? आज दीपावली का त्यौहार है और बढ़ते प्रदूषण को देखते हुए सुप्रीम कोर्ट ने इस त्यौहार पर पटाखों के सम्बन्ध में कुछ नियम व् शर्तें रक्खीं हैं लेकिन दिल्ली एनसीआर के लोग इस नियम की धज्जियाँ उड़ा रहे हैं और आज उड़ा भी सकते हैं।

पटाखे जलाने का समय 8 से 10 तक रक्खा गया है लेकिन कुछ लोग रात्रि भर पटाखें फोड़ते रहे और आज रात्रि दस बजे के बाद भी ऐसा देखा जा सकता है। ऐसे लोगों को प्रदूषण से कोई लेना देना नहीं है। कुछ लोग चोरी छिपे प्रतिबंधित पटाखे बेंच रहे हैं। दिल्ली एनसीआर में कई लोग पकडे भी गए हैं लेकिन लाख नियम क़ानून के बाद भी चोर चोरी नहीं छोड़ता इसलिए संभव है मोटी कमाई के चक्कर में लोग अब भी चोरी छिपे पटाखे बेंच रहे हों। तभी लोग भारी आवाज वाले पटाखे दगा रहे हैं। देश की तमाम समाजसेवी संस्थाएं लोगों को जागरूक भी कर रहीं हैं लेकिन पटाखा प्रेमी मनुष्यों पर इस जागरूकता का कोई प्रभाव नहीं दिख रहा है।

LEAVE A REPLY