अनाथ बच्चों को रजाई और गद्दे वितरित कर NIT 86 के शर्मा परिवार ने मनाई दीवाली

0
84

फरीदाबाद, 8 नवम्बर। दीपावली के शुभ अवसर पर पूर्व मंत्री स्व. पंडि़त शिवचरण लाल शर्मा जी के परिवार ने एनआईटी दो नंबर स्थित सरकारी स्कूल में बने हॉस्टल में अनाथ बच्चों के लिए रजाई और गद्दे वितरित कर अनाथ बच्चों के साथ दीपावली का त्यौहार मनाया। इस धर्म कार्य में स्व. पं. शिवचरण लाल शर्मा जी के बड़े पुत्र एवं नगर निगम के पूर्व वरिष्ठ उपमहापौर मुकेश शर्मा, कांग्रेसी नेता नीरज शर्मा, समाजसेवी मुनेश शर्मा के अलावा परिवारिक सदस्य गोपाल मखीजा, प्रिंस कम्बोज, जितिन कालरा, समाजसेवी राजेन्द्र भाटिया, सन्नी, अमन, परवीन, मनीष, पंकज, राहुल, गगन, गौरव जुनेजा, दीपक अदलक्खा, मदन लाल, सुरेश अहलावत, राजेन्द्र दहिया, संदीप भारद्वाज, राजन कौशिक सहित अनेक लोग उपस्थित थे।

इस मौके पर कांग्रेसी नेता नीरज शर्मा ने कहा कि हमारे पिताजी स्व. पंडि़त शिवचरण लाल शर्मा सदैव यहीं कहा करते थे कि गरीब, अनाथ बच्चों की सहायता और बुजुर्गो का सम्मान करने से बड़ा कोई धर्म नहीं है। इनकी सेवा करने से न केवल प्रत्येक व्यक्ति को खुशी मिलेगी अपितु पुण्य के भी भागीदार बनेंगे। इसलिए प्रत्येक व्यक्ति को सदा ही बुर्जुर्गों की सेवा और अनाथ बच्चों की सहायता करनी चाहिए। नीरज शर्मा ने कहा कि पंडि़त जी की इच्छानुसार सर्दियां शुरू होते ही आज हॉस्टल में रह रहे करीब 80 बच्चों के लिए टीम-86 के सहयोग से रजाई व गद्दे का प्रबंध किया गया है ताकि इन बच्चों को सर्दियों में ठंड का सामना न करना पड़े। मौके पर मौजूद अन्य वरिष्ठ समाजसेवियों ने भी स्वर्गीय पंडि़त शिवचरण लाल शर्मा जी को याद करते हुए कहा कि पंडि़त जी सदैव हमारे दिल में रहेंगे और एनआईटी-86 की जनता का प्यार उनके परिवार को सदैव मिलता रहेगा क्योंकि पूर्व मंत्री स्व. पं. शिवचरण लाल शर्मा जी जमीन से जुड़े हुए व्यक्ति थे। एनआईटी-86 के लोगों से वह अपने परिवार की तरह मिलते थे और उनकी समस्याओं का समाधान मौके पर ही निपटारा कर देते थे। उनकी कमी को कभी पूरा नहीं किया जा सकता है।

इस मौके पर निगम के पूर्व वरिष्ठ उपमहापौर मुकेश शर्मा ने अनाथ व गरीब बच्चों का मुंंह मीठा कराया और बुजुर्गों से आशीर्वाद लेकर उनको दीपावली पर्व की हार्दिक शुभकामनाएं दी और कहा कि मेरे पिताजी पं. शिवचरण लाल शर्मा जी ने सदैव ही सादा जीवन जिया है, मंत्रीकाल में मंत्री रहते हुए भी वह एनआईटी-86 की जनता से सदैव परिवार की तरह प्यार करते थे। आज एनआईटी-86 की जनता के लिए जो सपने उन्होंने देखे थे वह सपने अब पूरे करने का वक्त आ गया है। एनआईटी-86 की जनता शर्मा परिवार के साथ मजबूती के साथ खड़ी है। उन्होंने लोगों से यह भी अपील की कि दीपावली जैसे पवित्र पर्व को दीपों के साथ मनाएं न कि बम-पटाखों के साथ। इस पर्व को प्रदूषण मुक्त दीपावली के रूप में मनाएं।

LEAVE A REPLY