सत्ता मिलते ही किसानों और बीपीएल परिवारों के कर्जे माफ कर देगी कांग्रेस: हुड्डा

0
236

अनूप कुमार सैनी: महम (रोहतक), 10 फ़रवरी। आज महम में कार्यकर्त्ता मीटिंग को संबोधित करने पहुंचे कांग्रेस वर्किंग कमेटी के सदस्य और सांसद दीपेन्द्र हुड्डा ने बड़ा ऐलान करते हुए कहा कि देश व प्रदेश में कांग्रेस पार्टी की सरकार बनने पर किसानों तथा बीपीएल परिवारों के कर्जे माफ किए जाएंगे। हरियाणा के सरकारी कर्मचारियों की पुरानी पैंशन बहाल की जाएगी और बुढ़ापा पैंशन में वृद्धि की जाएगी। इसी प्रकार नौजवानों के लिए रोजगार मुहैया कराने की दिशा में तवरित कार्यवाही की जाएगी।
इस मौके पर सांसद दीपेन्द्र हुड्डा एवं विधायक आनंद सिंह दांगी ने महम में कांग्रेस कार्यालय का भी उद्घाटन किया।
इस दौरान जनसभा को संबोधित करते हुए सांसद दीपेन्द्र ने मौजूद लोगों से अपील करते हुए सभी को एकजुट होकर चुनाव की तैयारियों में जी-जान से जुट जाने का कार्यकर्त्ताओं से आह्वान करते हुए सांसद दीपेन्द्र ने कहा कि वोट बढ़ाओ, वोट की पोल करवाना व वोट की रुखाली भी थारे जिम्मे है।

उन्होंने कहा कि हम सभी को मिलकर दोबारा से हरियाणा को खुशहाली के रास्ते पर पर ले कर जाना है। इस बार का लोकसभा चुनाव सिर्फ चुनाव नहीं है, इस चुनाव के नतीजे से भाजपा को आईना दिखाना है। जिस तरह से उन्होंने प्रदेश और देश का हाल कर दिया है, उससे प्रदेश को बचाना है। लोकसभा चुनाव के नतीजे भाजपा को साफ कर देंगे कि हरियाणा में भाजपा का समय खत्म हो गया है। वो बहुत कोशिश करेंगे लेकिन हम सब को मिलकर रहना है।
कांग्रेसी सांसद ने कहा कि आप लोगों की दी ताकत को मैंने पहले भी अपनी पूरी ऊर्जा के साथ इलाके के विकास और व्यापक जनहित में लगाया और दिन-रात एक करके काम किया है। बड़ी संख्या में उपस्थित लोगों ने सांसद दीपेन्द्र का का भव्य स्वागत किया।
लोगों के इस अपनेपन और जोशीले स्वागत के लिए सांसद ने सभी का आभार व्यक्त किया। उन्होंने कहा कि आप लोगों से मिली इसी ताकत के बलबूते मैं संघर्ष कर पाता हूं और यही ताकत हर बार मुझे दोगुने जोश के साथ मेहनत करने की प्रेरणा भी देती है। जब तक आप सभी के प्यार और आशीर्वाद का हाथ मेरे सिर पर है कोई सरकार हो और कितने भी पर्चण्ड रच ले, मेरा संघर्ष न कभी रोक पायी है न कभी रोक पाएगी।

सांसद दीपेन्द्र हुड्डा ने आगे कहा कि आज भाजपा सरकार की गलत नीतियों के कारण प्रदेश के लोग कठिन परिस्थितियों से जूझ रहे हैं। किसान कर्ज में डूबा है, उसको फसल का सही भाव तक नहीं मिल पा रहा है और उसके खाते से जबरन बीमा प्रीमियम काटे जाने के बावजूद फसल ख़राब होने पर को उचित मुआवजा भी नहीं मिलता।
उनका कहना था कि युवा बेतहाशा बढ़ती बेरोजगारी की मार झेल रहा है और व्यापारी अपराध, मंदी, नोटबंदी और गलत तरीके से लागू किए गए जीएसटी की चोट से बेहाल है। कर्मचारी सड़कों पर प्रदर्शन कर रहा है, फिर भी उसकी नहीं सुनी जा रही। दीपेन्द्र ने कहा कि प्रदेश में भाजपा सरकार ने लोगों से सत्ता के बदले 154 वायदे किये थे लेकिन सत्ता मिलने के बावजूद एक भी वायदा नहीं निभाया।
महम से विधायक आनंद सिंह दांगी ने कहा कि हमारी संस्कृति भाईचारे और आपसी सौहार्द के साथ मिलकर एक अच्छे समाज के निर्माण की रही है। इसी सोच के साथ दस साल हरियाणा में हुड्डा सरकार के 10 साल के दौरान प्रदेश भाईचारे की नींव पर एक के बाद एक विकास के नए-नए कीर्तिमान स्थापित करता रहा। मगर ये दुर्भाग्य है कि ऐसी सरकार मिली है, जिसने विकास और जनहित तो दूर प्रदेश को हिंसा की आग में झोंकने का नया कीर्तिमान स्थापित किया है।
उनका कहना था कि भाजपा को प्रदेश की जनता बहुत करीब से देख चुकी है। इन्होंने काम कुछ किया नहीं और अगर कुछ किया है तो बस भाईचारा तोड़ने और लोगों को बांटने का काम किया है।
इस अवसर पर विधायक आनंद सिंह दांगी, जगत काला, सोमनाथ गिरोत्रा, बलराम दांगी, बिल्लू हुड्डा, अनिल शर्मा, निर्मला राठी, राजबीर सामन्या, सतबीर सैनी, कृष्ण छाबड़ा, बंटी पार्षद, धर्मपाल मेहता, बालकिशन शर्मा, कश्मीर सहारण आदि गणमान्य लोग मौजूद रहे।

LEAVE A REPLY