हरियाणा में बड़ी बारदात को अंजाम देने वाले कई खूंखार बदमाश हथियारों संग दबोचे गए

Criminal Arrested In Haryana

चंडीगढ़, 7 दिसम्बर- हरियाणा में अपराध की रोकथाम व अपराधियों को काबू करने के लिए चलाए जा रहे सघन अभियान केदृष्टिगत पुलिस ने गत रात्रि रोहतक जिले के सांपला से दो युवकों को भारी मात्रा में हथियारों सहित काबू किया है। आरोपियो से पुछताछ पर लूट की 8 वारदातों का खुलासा हुआ है। हरियाणा पुलिस के एक प्रवक्ता ने बताया कि इस श्रृंखला में पुलिस की एंटी व्हीक्ल थैफ्ट व डिटेक्शन स्टाफ की टीम ने इन अपराधियों को काबू किया। आरोपियों ने अपने अन्य साथियों के साथ मिलकर शनिदेव उर्फ कुकी व एक अन्य युवक की हत्या करने की योजना बनाई थी। पुलिस ने तत्परता से कार्यवाही करते हुए इन आरोपियो को काबू कर हत्या की दो वारदातो को होने से बचाए है।

पुलिस अधीक्षक, रोहतक, श्री पंकज नैन ने बताया कि गत रात्रि एवीटी स्टाफ प्रभारी निरीक्षक मनोज वर्मा को सूचना मिली थी कि सांपला बस स्टैण्ड के पास दो युवक हथियारो सहित संदिग्घ हालात में घूम रहे है। निरीक्षक मनोज वर्मा ने तुरन्त कार्यवाही करते हुए उपनिरीक्षक धर्मबीर के नेतृत्व मे टीम गठित कर छापेमारी के लिए रवाना किया। एवीटी टीम ने सांपला बस स्टैण्ड से मोटरसाईकिल सवार दो युवको को काबू किया है। पुछताछ पर युवकों की पहचान गांव रुडक़ी (रोहतक) हाल राजीव नगर कच्चा चमारियां रोड़ रोहतक निवासी अंकित उर्फ फौजी व रामकलां कालोनी, बादली रोड़ बहादुरगढ़ निवासी आनंद उर्फ कांचा के रुप में हुई है। तलाशी लेने पर आरोपी अंकित से एक पिस्तोल 9 एमएम, 4 पिस्तोल देसी व चार कारतूस बरामद हुए है। आरोपी आनंद उर्फ कांचा से एक पिस्तोल देसी बरामद हुई है। आरोपियो के खिलाफ थाना सांपला में शस्त्र अधिनियम के तहत अभियोग अंकित कर गिरफ्तार किया गया है।

निरीक्षक मनोज वर्मा के नेतृत्व में आरोपियो से गहनता से पुछताछ की गई है। आरोपी अंकित उर्फ फौजी उम्र 20 साल 12वीं पास है तथा आरोपी आनंद उम्र 19 साल बीएससी में पढ़ता है। आरोपी अंकित उर्फ फौजी के खिलाफ थाना शहर रोहतक में वर्ष 2016 में एक बलात्कार का मुकदमा दर्ज रजिस्टर है तथा वर्ष, 2017 में अवैध हथियार रखने का एक मुकदमा थाना सदर रोहतक में दर्ज है। दोनों मामलों में आरोपी करीब 6 महीने सुनारिया जेल में रहने के बाद जमानत पर जेल से बाहर आया हुआ है। आरोपी आनंद के खिलाफ अवैध हथियार रखने का एक मुकदमा थाना शहर बहादुरगढ़ में अक्टूबर माह में दर्ज रजिस्टर है जिसमें आरोपी जमानत पर है। एवीटी स्टाफ की टीम ने 5 दिसम्बर, 2017 को आरोपियो के साथी गांव रूडक़ी निवासी सुमित को दिल्ली बाईपास से गिरफ्तार किया था। आरोपी सुमित को 6 दिसम्बर, 2017 को अदालत मे पेश करके 2 दिन के पुलिस हिरासत रिमाण्ड पर हासिल किया गया है।

मुख्य आरोपी अंकित उर्फ फौजी गांव रिठाल निवासी विरेंदर के साथ इनवर्टर-बैटरी का काम करता था। विरेंदर के चचेरे भाई अंकित की कुछ महिनों पहले लाढ़ौत रोड़ पर शनिदेव उर्फ कुकी गैंग ने हत्या की थी। विरेंदर ने अंकित की मुलाकात गांव आहुलाना (गोहाना) निवासी रणवीर से कराई थी। रणवीर का पुत्र अमरजीत शनिदेव उर्फ कुकी के भाई के कत्ल के केस में जेल में बंद है। अंकित व रणवीर ने अपने अन्य साथियो के साथ मिलकर शनिदेव उर्फ कुकी की हत्या की योजना बनाई थी। योजना के अनुसार जेल में बन्द शनिदेव उर्फ कुकी को पुलिस कस्टडी में रोहतक अदालत परिसर में पेशी के दौरान मारना था। योजना में रणवीर ने अंकित को सारे हथियार उपलब्ध कराए थे। इस वारदात को अंकित व गांव गुढ़ा निवासी राहुल व रॉबिन ने मिलकर अंजाम देना था।

इसके अलावा, रणवीर वासी आहुलाना के बड़े बेटे कदम की हत्या शनिदेव उर्फ कुकी गैंग ने की थी। कदम की हत्या में शनिदेव गैंग को मुखबरी मोहित वासी आहुलाना ने दी थी। मौका मिलते ही अंकित व रणवीर ने मोहित का भी कत्ल करना था। करीब 10 दिन पहले भी रोबिन वासी गुढा ने सूचना दी थी कि मोहित गोहाना के बाजार में है। लेकिन जब तक अंकित व राहुल बाजार में मोहित का हत्या करने के ईरादे से आए तब तक मोहित वहां से जा चुका था।
आरोपियों से पुछताछ के दौरान अनेक वारदातों में शामिल होने का खुलासा हुआ है।

loading...

Leave a Reply

*