इश्क में बौखलाया आशिक, साथी को मारी गोली, जिम में लगा दी आग

0
336

पानीपत: प्यार में बौखलाया एक सनकी आशिक अपने दोस्तों की जान का ही दुश्मन बन गया है। उसने लड़की भगाने में साथ न देने पर पहले अपने एक दोस्त के जिम में आग लगाई वहीं अब दूसरे दोस्त राजन को गोली मार दी। वह अभी अस्पताल में भर्ती है। वहीं उसने अब तीसरे को भी गोली मारने की धमकी दी है। आरोपी ने व्हाट्स एप्प स्टेटस पर लड़की के भाई सहित चार लोगों को अपना टारगेट बताया है। वहीं दूसरी अौर परिजनों ने पुलिस पर आरोप लगाया है कि यह हादसा पुलिस की नाकाबिलियत के चलते हुआ है। जबकि पुलिस को पहले ही मामले का पता था लेकिन कोई संज्ञान नहीं लिया गया। फिलहाल पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया है और जांच शुरू कर दी है।

जानकारी के अनुसार पानीपत में कलंदर चौक का रहने वाला युवक अमित (काल्पनिक) नाम ने आरोपी रॉकी के खिलाफ 15 मई को उसकी 22 वर्षीय बहन को भगाकर ले जाने का मामला किला थाने में दर्ज कराया था। लड़की का भाई अमित और आरोपी रोकी एक साथ साईं बाबा चौक पर मसल्स स्ट्रेंथ जिम में जाते थे और इसी दौरान रॉकी अमित की बहन को भगाकर ले गया।

जिम का मालिक महेंद्र दोनों का दोस्त था और इस मामले में महेंद्र अमित का साथ नहीं दे रहा था। इसी बात से नाराज़ आरोपी रॉकी ने 4 जुलाई को महेंद्र के जिम में पेट्रोल डालकर आग लगा दी और बाद में अमित का साथ दे रहे राजन और गोपाल को फोन कर धमकी दी और कहा बच कर रहना गोली मार दूंगा। देर रात आरोपी रॉकी बाइक पर सवार होकर आया ओर राजन को नवा कोट गुरद्वारे के पास गोली मारकर फरार हो गया।

गोली मारने के बाद अमित के दोस्त गोपाल को किसी का फोन मांग कर कहा भाई गोपाल अगला नंबर तेरा है और फिर व्हाट्सऐप स्टेटस में घायल राजन का फोटो लगाकर उस पर क्रोस का निशान लगाया और राजन के बाद लड़की के भाई अमित, महेंद्र और गोपाल को टारगेट बताया। उसने लिखा कि राजन बच गया है उसके लिए इतना की काफी है।

घायल के परिजनों ने पुलिस पर आरोप लगाया है कि उन्हें पहले ही सूचना दी गई थी कि रॉकी ने जान से मारने की धमकी दे रखी है और रॉकी का पता बताने पर उसे गिरफ्तार नहीं किया। पुलिस इस मामले को हलके में लेकर चल रही थी जिसके चलते आज राजन को गोली लगी है। फिलहाल पुलिस ने मामला दर्ज कर मामले की जांच में जुट गई है।

LEAVE A REPLY