हरियाणा सीएम विंडों में घोटाला, सीएम फलाइंग से करवाने के निर्देश

0
371

चंडीगढ़, 30 मई- मुख्यमंत्री के अतिरिक्त प्रधान सचिव डॉ. राकेश गुप्ता ने सीएम विण्डो पर आने वाली ऑनलाइन शिकायतों की समीक्षा बैठक के दौरान गबन के मामलों में एफआईआर दर्ज करने और विभिन्न मामलों में 5 कर्मचारियों के निलंबन तथा कुछ शिकायतों की जांच सीएम फलाइंग से करवाने के निर्देश दिए हैं।

मुख्यमंत्री के अतिरिक्त प्रधान सचिव डॉ. राकेश गुप्ता तथा मुख्यमंत्री के ओएसडी श्री भूपेश्वर दयाल सीएम विण्डो पर आने वाली शिकायतों का निपटान करने के सम्बन्ध में आज यहां विभागों के नोडल अधिकारियों की एक बैठक की अध्यक्षता कर रहे थे। सीएम विण्डो पर प्राप्त शिकायतों पर विचार विमर्श किया गया और अधिकारियों को लम्बित शिकायतों को यथाशीघ्र निपटाने के निर्देश दिए हैं।

गुरुग्राम के दौलताबाद में एक घोटाले की शिकायत को वापिस लेने और मामले को रफा-दफा करने की एवज में पैसे मांगने वाले शिकायतकर्ता और घोटाला करने वाले दोषी के विरुद्ध आपराधिक मामला दर्ज करने के निर्देश हैं।

पलवल जिले में एक पंचायत में हुए गबन के मामले में उपायुक्त को रिकवरी व आपराधिक मामला दर्ज करने और एक महीने में समुचित कार्रवाई करने के निर्देश दिए और साथ ही बीडीपीओ को कारण बताओ नोटिस जारी करने के भी निर्देश दिए हैं। पानीपत जिले में एक सरपंच द्वारा डेढ़ करोड़ रुपये के गबन के मामले में भी एफआईआर दर्ज करने के निर्देश हैं। गुरुग्राम में एक बिल्डर द्वारा बेची गई 46 एकड़ पंचायती भूमि के मामले में उपायुक्त को भूमि पर कब्जा करने और एफआईआर दर्ज करने के निर्देश दिए हैं।

आबकारी एवं कराधान विभाग के अंतर्गत पलवल जिले से आई टैक्स गबन की शिकायत पर मामले में जिम्मेवारी तय करने और नोटिस न देने वाले कर्मचारी के विरूद्ध चार्जशीट करने के निर्देश दिए हैं।

टाउन एंड कंट्री प्लानिंग विभाग के दो जेई नामत: जयवीर सिंह और ओम सिंह तथा एक चौकीदार राजकुमार को कागजों में छेड़छाड़ कर रिपोर्ट बदलने के आरोप में निलंबित किया और साथ ही आपराधिक मामला दर्ज करने के आदेश दिए।

गुरुग्राम में एक बिल्डर द्वारा एक प्राकृतिक नाले पर किए गए कब्जे के संबंध में उपायुक्त और नगर निगम कमीश्नर को संयुक्त कार्रवाई कर नाले से कब्जे को तुरंत हटाने और समुचित कार्रवाइ करने के निर्देश दिए हैं।

रोहतक में जिला बागवानी अधिकारी के विरूद्ध 37 लाख रुपये के गोलमाल करने के आरोप पर विभाग द्वारा दी गई रिपोर्ट को लीपापोती रिपोर्ट माना गया, जिस पर श्री भूपेश्वर दयाल ने सीएम फलाइंग से जांच करवाने के निर्देश दिए हैं। इसके अलावा राजस्व विभाग में आए एक शिकायत की भी सीएम फलाइंग द्वारा जांच करवाने के निर्देश दिए हैं।

स्कूल शिक्षा विभाग के अंतर्गत गबन के मामले में आई एक शिकायत में कॉमर्स लैक्चरर रामकुमार को सस्पेंड किया गया।

पुलिस विभाग के अंतर्गत आई एक शिकायत की गलत रिपोर्ट देने वाले एडीए के खिलाफ विभागीय कार्रवाई करने के निर्देश दिए गए। दो अन्य मामलों में पुलिस अधिक्षक, पानीपत और थाना सिविल लाइन, भिवानी के एसएचओ को कारण बताओ नोटिस जारी करने के भी निर्देश दिए गए।

खाद्य एवं आपूर्ति विभाग के अंतर्गत खाद्य आबंटन (पीडीएस) में अनियमितता की शिकायत पर खाद्य एवं आपूर्ति विभाग के संयुक्त निदेशक, पलवल तथा एडीसी, पलवल द्वारा खाद्य आबंटन (पीडीएस) में हुई अनियमितता की जांच रिपोर्ट में सभी संबंधित इंस्पेक्टर, सब-इंस्पेक्टर और एक डीएफएससी श्रीमति सीमा शर्मा के विरुद्ध एफआईआर दर्ज करने के निर्देश दिए गए हैं।

उच्चतर शिक्षा विभाग के अंतर्गत आई शिकायत जिसमें सह प्राध्यापक अशोक कटारिया द्वारा इंदिरा गांधी राजकीय महाविद्यालय, टोहाना में स्कूल के गेट और ग्रिल लगवाने के कार्य में अनियमितता पाए जाने पर निलंबित करने के निर्देश दिए हैं।

बैठक में सोशल मीडिया पर आने वाली शिकायतों की भी समीक्षा की गई। मुख्यमंत्री के अतिरिक्त प्रधान सचिव डॉ. राकेश गुप्ता तथा मुख्यमंत्री के ओएसडी श्री भूपेश्वर दयाल ने सभी नोडल अधिकारियों को निर्देश दिए कि सीएम विण्डो के साथ सोशल मीडिया पर आने वाली शिकायतों का भी त्वरित निपटान किया जाए।

LEAVE A REPLY