CBI के बाबा से पूछे 30 सवालों का बस एक ही जवाब –मुझे कुछ नहीं पता

Ram rahim in rohtak jail

अनूप कुमार सैनी: रोहतक, 12 अक्टूबर: साध्वी रेप केस में सजा काट रहे राम रहीम की मुश्किलें और बढ़ने वाली हैं। सीबीआई टीम ने रोहतक सुनारिया जेल पहुंचकर बाबा से पूछताछ की है। करीब 3 घंटे यह पूछताछ चली और इस दौरान राम रहीम पसीना पोंछता रहा। सीबीआई टीम की इस मुलाकात ने उसकी हालत खराब कर दी। बताया जा रहा है कि सीबीआई की टीम गोपनीय तरीके से रोहतक जेल पहुंची और बाबा से रणजीत सिंह व पत्रकार छत्रपति मर्डर केस व साधुओं को नपुंसक बनाए जाने के संबंध में पूछताछ की।
डेरे के अनुयायियों को नपुंंसक बनाने के मामले में यहां सुनारिया जेल में बंद बाबा गुरमीत राम रहीम से सीबीआई ने लम्बी पूछताछ की। सीबीआई के सूत्रों के अनुसार कथित संत गुरमीत राम रहीम से 30 सवाल पूछे गए लेकिन सीबीआई को किसी भी सवाल का जवाब नहीं मिला। गुरमीत ने सीबीआई के हर सवाल पर कहा कि उसे कुछ नहीं पता।

सूत्रों के अनुसार, गुरमीत सीबीआई टीम से ही उलटे सवाल करने लगा। राम रहीम ने कहा कि उसे कानून की पूरी समझ है। पहले सीबीआई टीम उससे पूछताछ करने की इजाजत के कागजात दिखाए। हालांकि बाद में वह बात करने को राजी हो गया।  पंचकूला में 25 अगस्त को हिंसा फैलाने के मामले में दो डेरा प्रेमी हिरासत में लिए गए थे। डेरा प्रेमियों से पूछताछ हुई तो दोनों ही डेराप्रेमियों के नपुंसक होने का मामला सामने आया। इसका खुलासा होते ही पुलिस ने यह मामला भी सीबीआई को दे दिया था। सीबीआई अब इस मामले में जांच कर रही थी।

बाबा पर अपने ही 400 समर्थकों और अनुयायियों को नपुंसक बनाने का केस भी चल रहा है। इनकी जांच सीबीआई कर रही है। 28 अगस्त को पंचकूला में दंगा भड़काने के आरोप में कई डेरा समर्थकों को पुलिस ने गिरफ्तार किया था। इनमें से 4 समर्थक मेडिकल रिपोर्ट में नपुंसक पाए गए हैं।
सीबीआई ने क्या पूछा?
– सीबीआई ने पूछा- आखिर डेरामुखी का ऐसा क्या असर था कि समर्थक नपुंसक बनने को तैयार हो गए?
– सीबीआई के सूत्रों ने बताया- “सीबीआई ने मंगलवार को जेल जाकर डेरा प्रमुख गुरमीत राम रहीम सिंह से पहला सवाल किया कि कितने लोगों को नपुंसक बनाया। डेरामुखी ने जवाब नहीं दिया। फिर पूछा कि जिन लोगों को नपुंसक बनाया, उन्हें इसके लिए कैसे मजबूर किया? किस तरह के प्रभाव में साधक नपुंसक बनने को राजी हुए? कितने लोग हैं, जिन्हें नपुंसक बनाया गया? डेरे के और किन लोगों ने साधकों को ऐसा करने के लिए मनाया? इन सवालों पर डेरामुखी ने सीबीआई टीम से सिर्फ इतना कहा कि उसे कुछ नहीं पता।
बता दें कि डेरामुखी पर अनुयायियों को नपुंसक बनाने के आरोप पहले से लगे हुए हैं और इस मामले की जांच सीबीआई द्वारा की जा रही है। इसी जांच के तहत राम रहीम से पूछताछ की गई और टीम दोबारा भी राम रहीम से पूछताछ कर सकती है।

loading...

Leave a Reply

*