फेक न्यूज़ फैलाने वाली शेहला राशिद पर FIR: बचाने के लिए मैदान में उतरीं कविता कृष्णन

0
175

नई दिल्ली: देश में कल भी कई जवान शहीद हुए लेकिन इन शहादतों पर भी कम्युनिस्ट सहित तमाम नेता और उनके समर्थक उसी तरह खामोश हैं जैसे पुलवामा में 40 जवानों के शहीद होने के बाद खामोश थे। इनकी खामोशी बहुत कुछ बोल रही है। सीपीएम पोलित ब्‍यूरो की सदस्‍य कविता कृष्‍णन को शहीदों से ज्यादा वो पसंद आ रहे हैं जिन पर देश द्रोह के मामले दर्ज हैं या अन्य किसी देशविरोधी गतिविधियों के बाद उन पर मामले दर्ज हुए हैं। कल कविता कृष्‍णन को दिल्ली के पूर्व मंत्री कपिल मिश्रा ने आतंकवादियों की अम्मा कहा था।

एक दिन पहले उत्तराखंड पुलिस ने फेक न्यूज़ और गलत अफवाह फैलाने के लिए शेहला रशीद के खिलाफ मामला दर्ज किया था शेहला पर आरोप है कि उन्‍होंने रविवार को देहरादून में कुछ कश्‍मीरी छात्राओं के गुस्‍साई भीड़ के बीच फंसी होने संबंधी गलत सूचना सोशल मीडिया पर डाली थी जो तेजी के साथ वायरल हो गई। अब शेहला के बचाव में कविता कृषणन कूद गईं हैं। सोशल मीडिया पर घिर भी रही हैं।

LEAVE A REPLY