कर्नाटक में राजनीति का अजीब खेल, जाने कैसे बहुमत साबित करेंगे CM यदुरप्पा

0
288

नई दिल्ली: राजनीति का खेल भी बड़ा अजीब है कभी कभी नेताओं की कही बातें बड़ी सटीक बैठती हैं। कर्नाटक विधानसभा चुनावों में उस समय के मुख्यमंत्री सिद्धारमैय्या ने कुमार स्वामी के बारे में कहा था कि ये कभी मुख्यमंत्री नहीं बन पाएंगे। स्वामी जेडीएस के नेता थे और सिद्धारमैय्या बार बार उन पर हमला बोलते थे लेकिन 15 मई को मतगणना के बाद कांग्रेस ने कुमारस्वामी को सीएम पद की कुर्सी का लालच दिया था ताकि भाजपा सरकार न बन पाए और जेडीएस और कांग्रेस आपसी मनमुटाव भूलकर एक हो गए लेकिन सिद्धारमैय्या की कही बात सच हुए और कुमारस्वामी सीएम नहीं बन पाए। आज सीएम पद की शपथ भाजपा के बी एस यदुरप्पा ने ले ली। स्वामी न इधर के रहे न उधर के और कांग्रेस भी माथा खुजलाते रह गई।

अब बात आती है कि यदुरप्पा बहुमत कैसे साबित करेंगे। हरियाणा अब तक अपने सूत्रों की मानें तो कांग्रेस और जेडीएस के कई विधायक भाजपा के साथ खड़े दिख सकते हैं। इसका एक प्रमुख कारण ये है कि कांग्रेस की तरफ से अल्पसंख्यक समुदाय का कार्ड चलने के बावजूद लिंगायत समुदाय ने चुनावों में बड़े पैमाने पर बीजेपी का साथ दिया। कांग्रेस ने लिंगायत समुदाय के लोगों के लिए अलग धर्म का एलान किया था लेकिन कांग्रेस को सफलता नहीं मिली और इस भाजपा ने भुना लिया था। अब लगभग एक दर्जन विधायक भाजपा का साथ दे सकते हैं और सूत्र सच हुए तो यदुरप्पा आराम से बहुमत साबित कर लेंगे। ताजा जानकारी मिल रही है कि कर्नाटक के कांग्रेसी नेता विधानसभा के बाहर प्रदर्शन करने जा रहे हैं।

LEAVE A REPLY